2 हजार लोगों को किया पुलिस-पीएसी और SDRF-NDRF ने रेस्क्यू, सुरक्षित जगह पहुंचाया

नैनीताल : उत्तराखंड में बीते दो दिनों से बारिश ने तांडव मचा रखा है। सबसे ज्यादा तांडव तराई क्षेत्रों में मचा है। तराई में दो दिनों से हो रही बारिश के बाद रुद्रपुर में जगह जगह जलभराव हो गया है। इससे हजारों लोगों के घरों में पानी घुस आया है। राहत और बचाव कार्यों में लगी पुलिस, पीएसी, एसडीआरएफ और एनडीआरएफ की टीम ने 2000 लोगों का रेस्क्यू कर सुरक्षित ठिकानों में पहुंचाया है। साथ ही बचाव कार्य के लिए 6 बोट भी लगाए गए है।

रविवार दोपहर से शुरू हुई बारिश मंगलवार तड़के तक जारी रही। इससे शहर के कल्याणी नदी उफान में आ गई। नदी के तट पर स्थित रवीन्द्रनगर, जगतपुरा, ट्रांजिट कैम्प, पहाड़गंज, भूतबंगला और रम्पुरा में हजारों लोगों के घरों में पानी घुस आया। इसका पता चलते ही एसडीएम और सीओ सिटी के नेतृत्व में पुलिस टीम राहत कार्यों में जुट गई। इसके लिए ट्रांजिट कैम्प, रुद्रपुर कोतवाली के साथ ही सभी चौकी की फोर्स, पीएसी, एसडीआरएफ और एनडीआरएफ की टीम लगाई गई। जगतपुरा, आजादनगर, ट्रांजिट कैम्प, रम्पुरा और संजय नगर खेड़ा में पानी में फंसे लोगों को निकालने के लिए 6 बोट लगाई गई है।

सीओ सिटी अमित कुमार ने बताया कि अब तक दो हजार लोगों का रेस्क्यू कर सुरक्षित ठिकानों में पहुंचाया गया है। अभी भी कई लोग फंसे है, उन्हें भी निकालने का प्रयास जिया जा रहा है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here