उत्तराखंड: मंत्री के दावे हवाई, नहीं हुई धान की बोली, सड़क जाम

सितारगंज: किसानों और आढ़तियों के बीच धान तौल को लेकर विवाद होने पर किसानों ने मंडी गेट के सामने धान से भरी ट्रालियां लगाकर रोड़ जाम कर दिया। जिसके बाद प्रशासन के हाथ-पांव फूल गए। पिछले दिनों भी इस तरह का मामला सामने आया था।

एसडीएम तुषार सैनी सहित पुलिस बल ने मौके पर पहुंचकर किसानों की समस्याएं सुनी। किसानों ने कच्चे आढ़तियों पर मंडी परिसर की सांठगांठ से किसानों का उत्पीड़न किया जा रहा है। तय मानकों के बाबजूद भी कच्चे आढ़तियों धान तौल में मनमानी कटौती कर रहे हैं। धान का भुगतान 25 दिन के बाद करने के आरोप लगाए। किसानों का आरोप है कि जब भुगतान की मांग की गई तो आढ़तियों ने धान तौल बंद कर दी।

किसानांे ने आरोप लगाए कि किसानों की फसल खराब हो रही है। एसडीएम तुषार सैनी ने कच्चे किसानों से वार्ता करते हुए कच्चे आढ़तियों से मानकों के अनुसार धान की खरीद करने का भरोसा दिलाया। पिछले दिनों मंत्री बंशीधर भगत ने कहा था किसानों को परेशान नहीं होने दिया जाएगा, लेकिन अब किसानों को प्रताड़ित किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here