उत्तराखंड: IG बडोला ने बढ़ाया देवभूमि का मान, रक्षा मंत्री ने तटरक्षक पदक से किया सम्मानित

देहरादून: नई दिल्ली में आयोजित प्रभावशाली अलंकरण समारोह में मूल रूप से पौड़ी निवासी महानिरीक्षक आनंद प्रकाश बडोला, टीएम (तटरक्षक पदक), कमांडर तटरक्षक क्षेत्र (पूर्व) को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह तटरक्षक पदक से सम्मानित किया है। 15 अगस्त 2020 को भारत के राष्ट्रपति ने भी बडोला को उनके तीन दशकों के शानदार कार्यकाल के दौरान उनकी कार्यक्षमता और सेवा के सम्मान में फ्लैग अफसर को यह प्रतिष्ठित पदक प्रदान किया गया था।

महानिरीक्षक आनंद प्रकाश बडोला 1990 में भारतीय तटरक्षक में भर्ती हुए और अपने लगभग तीन दशकों के कार्यकाल के दौरान भारतीय तटरक्षक के विभिन्न श्रेणी के पोतों की कमान संभाली। फ्लैग अफसर ने तटीय और अपतटीय क्षेत्रों में विभिन्न क्षमताओं में अपनी सेवाएं दी हैं। उनका संचालन, प्रशासन, मानव संसाधन, नीति और योजना क्षेत्रों में प्रभावशाली और सरहानीय रिकॉर्ड है ।

फ्लैग अफसर नौचालन और निर्देशन (डायरेक्शन) के विशेषज्ञ हैं। यूएस स्टाफ महाविद्यालय न्यू पोर्ट, यूएसए के पूर्व छात्र हैं। महानिरीक्षक आनंद प्रकाश बडोला ने रसायन विज्ञान में स्नातकोत्तर डिग्री प्राप्त की है। बडोला को महानिदेश्क भारतीय तटरक्षक की ओर से दो बार प्रशंसा और कमांडर-इन-चीफ अंडमान और निकोबार को प्रशस्ति प्राप्त है।

फ्लैग ऑफिसर बडोला ने अपने कार्यकाल में विभिन्न स्टाफ नियुक्तियों का पद संभाला है, जिनमें प्रधान निदेशक (प्रशासन) तटरक्षक मुख्यालय, कमान अधिकारी तटरक्षक स्टेशन (दिल्ली), मुख्य स्टाफ अधिकारी (संचालन) तटरक्षक क्षेत्र (पूर्व) और क्षेत्रीय संचालन और योजना अधिकारी, क्षेत्र (पश्चिम और अंडमान और निकोबार ) सम्मिलित है, जहां उच्च स्तर की परिचालन प्रभावशीलता और सेवा हेतु प्रशासनिक समेकन को प्राप्त करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

17 मई 2017 को फ्लैग रैंक पर पदोन्नत होने पर अफसर, मुख्यालय तटरक्षक पूर्वी समुद्री सीमा क्षेत्र और पश्चिम समुद्री सीमा क्षेत्र में स्टाफ प्रमुख के पद पर और दिसंबर 2019 से जून 2021 तक कमांडर तटरक्षक क्षेत्र (पश्चिम) के पद पर कार्यरत रहे। 15 अगस्त 2020 को राष्ट्रपति ने फ्लैग ऑफिसर को उनकी विशिष्ठ सेवा के लिए तटरक्षक पदक से सम्मानित किया गया।

महानिरीक्षक आनंद प्रकाश बडोला ने रसायन विज्ञान में स्नातकोत्तर डिग्री प्राप्त की है। महानिदेश्क भारतीय तटरक्षक द्वारा प्रशंसा, दो बारद्ध और कमांडर-इन-चीफ अंडमान और निकोबार द्वारा प्रशस्ति प्राप्त कर चुके हैं। बडोला जी ने अपने कार्यकाल में विभिन्न स्टाफ नियुक्तियों का पद संभाला है।

जिनमें प्रधान निदेशक प्रशासनद्ध तटरक्षक मुख्यालय, कमान अधिकारी तटरक्षक स्टेशन दिल्ली मुख्य स्टाफ अधिकारी संचालन तटरक्षक क्षेत्र, पूर्व और क्षेत्रीय संचालन और योजना अधिकारी क्षेत्र पश्चिम और अंडमान और निकोबार सम्मिलित है। जहां फ्लैग ऑफिसर ने उच्च स्तर की परिचालन प्रभावशीलता और सेवा हेतु प्रशासनिक समेकन को प्राप्त करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है ।

17 मई 2017 को फ्लैग रैंक पर पदोन्नत होने पर अफ्सरए मुख्यालय तटरक्षक पूर्वी समुद्री सीमा क्षेत्र और पश्चिम समुद्री सीमा क्षेत्र में स्टाफ प्रमुख के पद पर तथा दिसंबर 2019 से जून 2021 तक कमांडर तटरक्षक क्षेत्र ;पश्चिमद्ध के पद पर कार्यरत रहे । 15 अगस्त 2020 को भारत के राष्ट्रपति द्वारा फ्लैग ऑफिसर को उनकी विशिष्ठ सेवा के लिए तटरक्षक पदक से सम्मानित किया गया।

मूल रूप से फ्लैग ऑफिसर पौड़ी जिले के पैथोल गांव के रहे वाले हैं। इनकी धर्मपत्नी का नाम नीलिमा है और इनके दो पुत्र करण और अर्जुन हैं । महानिरीक्षक आनंद प्रकाश बडोला ने एसजीआरआर पीजी कॉलेज और एचएनबी गढ़ावल विश्वविद्यालय से पढ़ाई की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here