अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर सीमांत गांव हिमनी में महिलाओं ने किया कार्यक्रम आयोजित

चमोली : आज दुनिया भर में अंतर राष्ट्रीय महिला दिवस धूमधाम से मनाया जा रहा है. देश भर में आज कार्यक्रम आयोजित कर महिलाओं को सम्मानित किया जा रहा है और महिला शक्ति का बखान किया जा रहा है। वहीं बता दें कि इस मौके पर उत्तराखंड के दूरस्त और सीमंत गांव हिमनी में अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर कार्यक्रम आयोजित किया गया। गांव की महिला मंगल दल ने इस मौके पर कार्यक्रम किया। इसमे बच्चों से लेकर बूढ़े तक ने हिस्सा लिया। हिमनी गांव की महिलाओं के लिए राह आसान नहीं है लेकिन फिर भी मुस्कुरा कर हर समस्याओं से लड़कर महिलाएं आगे बढ़ रही हैं।

पहाड़ की नारी शक्ति की गाथा आज हर कोई गाता है। पहाड़ की जिंदगी आसान नहीं है। लेकिन पहाड़ की और सीमांत इलाके की महिलाएं डटकर मुसीबतों का सामना कर रही है और जीवन यापन कर रही है। पहाड़में कई चुनौतियों का सामना महिलाओं का करना पड़ता है लेकिन उनके कदम डगमगाते नहीं हैं। पहाड़ी नारी शक्ति की गाथा आज इतिहास के पन्नों पर भी दर्ज है। जिसमे गौरा देवी का नाम भी शामिल है जिसने पेड़ों को बचाने के लिए खुद की कुर्बानी देने में जरा भी डर महसूस नहीं किया। इतना ही नहीं गांव की अन्य महिलाएं भी उनके साथ खड़ी रहीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here