बीजेपी विधायक के खिलाफ तहरीर देने वाले एसडीएम के लिए छुट्टी के दिन क्या आदेश निकला?

purola sdm ss saini and mla durgeshwar lal
PHOTO – WEB

उत्तराखंड में एक एसडीएम का एक सत्ताधारी दल के विधायक के खिलाफ पुलिस में तहरीर देने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। दिलचस्प ये है कि इस मामले में सरकार ने छुट्टी का दिन होने के बावजूद एसडीएम का ट्रांसफर आदेश जारी कर दिया।

दरअसल ये मामला पुरोला का है। पुरोला से बीजेपी के विधायक हैं दुर्गेश्वर लाल और पुरोला में एसएस सैनी एसडीएम थे (अब ट्रांसफर हो गया)। बीजेपी के विधायक और एसडीएम के बीच पिछले काफी दिनों से शीत युद्ध चल रहा था। हालात ये हुए कि अतिक्रमण पर कार्रवाई के लिए पहुंचे एसडीएम और विधायक जी के बीच बाजार में ही झड़प हो गई।

इस घटनाक्रम के बाद दोनों पक्षों के अपने अपने दावे हैं और आरोप हैं। विधायक दुर्गेश्वर लाल का आरोप है कि एसडीएम का व्यवहार अच्छा नहीं है। वो अक्सर आम लोगों और बीजेपी कार्यकर्ताओं से तुनक मिजाजी के साथ बातें करते हैं। इसके साथ ही तहसील में हर काम के लिए सुविधा शुल्क देना पड़ता है।

बिछड़े बच्चों से मिलती मां की ये तस्वीरें देख उत्तराखंड पुलिस को आप सैल्यूट करेंगे

वहीं एसडीएम के अपने आरोप हैं जो वो विधायक पर लगा रहें हैं। एसडीएम का आरोप है कि विधायक और उनके सहयोगी जानबूझकर सोशल मीडिया में उनकी छवि खराब करने के लिए वीडियो इत्यादि बना रहें हैं। यही नहीं, जान से मारने की धमकी और एसएटी एक्ट में फंसाने की धमकी भी दी जा रही है।

अब हुआ ये कि एसडीएम ने विधायक दुर्गेश्वर लाल के खिलाफ पुलिस में तहरीर दे दी। सत्ताधारी दल के विधायक के खिलाफ थाने में तहरीर पहुंचते ही हंगामा मच गया। बात अब पुरोला से निकलकर देहरादून तक पहुंचनी ही थी। हुआ भी यही। अब सरकार को अपनी लानत मलानत से बचने का एक ही रास्ता नजर आया और वो था अधिकारी का ट्रांसफर। हो सकता है कि सरकार ने सोचा हो कि दोनों को अलग अलग कर देने से विवाद को फौरी तौर पर रोका जा सकेगा। अब विधायक का ट्रांसफर तो हो नहीं सकता था लिहाजा एसडीएम का ही ट्रांसफर कर दिया गया है। अब वो पौड़ी स्थित कमिश्नर कार्यालय के साथ अटैच कर दिए गए हैं।

 

वहीं इस मसले पर विपक्ष कहां चुप बैठने वाला था। कांग्रेस की प्रदेश प्रवक्ता गरिमा माहरा दसौनी ने मोर्चा खोल दिया और बीजेपी नेताओं पर गुंडागर्दी का आरोप लगा डाला। गरिमा ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो क्लिप भी शेयर की है जिसमें कथित तौर विधायक दुर्गेश्वर लाल एक सरकारी कागज फाड़ते हुए दिख रहें हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here