उत्तराखंड VIDEO : BJP विधायक को युवक ने सुनाई खरी-खोटी, शादी ना होने का लगाया आरोप

उधम सिंह नगर : शहीद की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने लोका गांव गए सितारगंज से बीजेपी विधायक सौरभ बहुगुणा को अजीबों-गरीब स्थिति का सामना करना पड़ा. लोका गांव में एक युवक ने विधायक को जमकर खरी खोटी सुनाई और जमकर क्लास लगा दी जिसके बाद विधायक को उलटे पैर भागना पड़ा। विकास कार्यों को गिनाने गए विधायक को लेने के देने पड़ गए। इतना ही नहीं युवक विकास के साथ साथ अपनी शादी कराने की विधायक से मांग करता हुए नज़र आया।

दरअसल स्वतंत्रता दिवस के मौके पर सितारगंज से विधायक सौरभ बहुगुणा ग्राम लोका में शहीद की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने और शहीद के परिवारों को सम्मनित करने पहुंचे थे लेकिन सभा चालू होते ही समस्याएं सुनाने का सिलसिला हुआ। तभी सत्येंद्र कुमार नाम का युवक सभा के दौरान उठा और विधायक पर विफ़र पड़ा और अपने मकान, गांव की रोड़, शौचालय बनाने की मांग करने लगा। सभा के दौरान खूब हंगामा से खड़ा हो गया। कोई चुप करा रहा था तो कोई समर्थन करता नजर आया। इतना ही नहीं सभा के दौरान युवक अपनी शादी न होने का जिम्मेदार विधायक सौरभ बहुगुणा को ठहराया और अपनी शादी करवाने की मांग की। ये पूरी बात कैमरे में कैद हो गयी जो कि अब यर वीडियो खूब वायरल हो रही है।

युवक ने लगाया आरोप

सत्येंद्र कुमार ने विधायक को कहा कि हम अपने गांव का विकास चाहते थे लेकिन आज तक हमारा कोई भी विकास नहीं हुआ. हम झोपड़ियों में रहते थे और आज भी झोपड़ी में ही रह रहे हैं। सत्येंद्र कुमारने बताया कि हमारे गांव में किसी भी तरह का कोई भी विकास नहीं किया गया है ना किसी को पक्के मकान दिए गए हैं और ना ही सड़कें बनाई गई है। कहा कि विजय बहुगुणा ने उनसे वायदा किया था कि हम आपको पक्के या कच्चे आवास देंगे मगर वह भी अपने वायदों को पूरा ना कर सके हमारे गांव को लोका नहीं लंका बना दिया है। कहा कि विधायक सौरव बहुगुणा ने भी वायदा किया था कि वो अपने वायदों को पूरा करेंगे लेकिन आज हमारी समस्याओं को बगैर सुने ही चले गए। हम उनका विरोध नहीं कर रहे हैं लेकिन हम चाहते हैं कि हमारी समस्याओं का समाधान किया जाए क्योंकि वह हमारे जनप्रतिनिधि हैं और हम उनके अलावा अपनी समस्याएं किसको सुनाएंगे।

विधायक ने इसे बताया राजनीतिक षड्यंत्र

वहीं इस पर जब सितारगंज के बीजीपी विधायक सौरभ बहुगुणा से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि 15 अगस्त के मौके पर शहीद की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने गए थे। उसी दौरान एक सभा का आयोजन किया, जहां राजनीतिक षड्यंत्र के तहत एक युवक अपने साथ दो लोगों को लेकर आया और सभा के बतिमीजी करते हुए विकास नकारने का आरोप लगाया ,है जब कि ये युवक मकान का पात्र नहीं है. इनके पिता को इंद्रा आवास दिया जा चुका है। अभी इस युवक की शादी नही हुई है तब शादी न होने का आरोप मेरे ऊपर लगाया है क्या अब शादी भी एक विधायक कराएंगे। जितने आरोप लगाये हैं वह निराधार हैं जो कि इस गांव में मैने करोड़ो के विकास कार्य कराएं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here