उत्तराखंड : पीड़ित पक्ष ने दी आत्मदाह की धमकी, ठगों को छुड़ाने पहुंचे थे BJP नेता

रुड़की: मंगलौर कोतवाली में एक दिन पहले हुआ विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। मंगलौर कोतवाली में ठगी के आरोपी को छुड़ाने भाजपा नेता पहुंचे थे। इस दौरान भाजपा नेता ने कोतवाल को घूसखोर कह दिया था, जिस पर कोतवाल ने भड़क गए थे। भाजपा नेता की जमकर कुटाई भी हुई थी।

इस मामले में जहां भाजपा विधायक और नेता सीएम से मिलने देहरादून पहुंचे। वहीं, भाजपा नेताओं के खिलाफ पीड़ित परिवार ने मोर्चा खोल दिया है। पीड़ित परिवार ने भाजपा कार्यकर्ताओं के खिलाफ ठगों का साथ देने का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि दो साल पहले रियालाइन्स कंपनी का डिस्टिब्यूशन दिलाने के नाम पर 5 लोगों ने उनके साथ ठगी की थी।

पुलिस से शिकायत भी की गई थी, जिसके आधार पर पुलिस ने एक आरोपी को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया था, जिसके बाद भाजपा के नेताओ ने मंगलौर कोतवाली का घेराव किया था और ठगी के आरोपी का छुड़ाने का दबाव बनाने लगे। इस दौरान जमकर बहस हुई और फिर बात लाठीचार्ज तक जा पहुंची।

उनका कहना है कि पुलिस सही काम कर रही है। भाजपा नेता गुंडों और ठगों को बचाने का काम कर रही है। उन्हांेने कहा कि अगर मंगलौर कोतवाल के खिलाफ कोई कार्रवाई की गई, तो वो आत्मदाह करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here