उत्तराखंड : CM धामी के सामने विधायक ने मंत्री और DM को हड़काया, कही ये बात

चम्पावत : मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के चम्पावत दौरे पर लोहाघाट विधायक पूरन फत्र्याल नाराज दिखे। विधायक ने गुस्से में मंत्री और डीएम को जमकर खरी खोटी सुनाई। इस वाक्या का वीडियो भी वायरल हो रहा है. बता दें कि वीडियो में विधायक का गुस्सा सातवें आसमान पर था। विधायक अपनी ही सरकार के मंत्री और जिलाधिकारी पर बरसे।

मिली जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी आज चम्पावत दौरे पर थे। सीएम के साथ धन सिंह रावत समेत तमाम अधिकारी मौजूद थे। सभी पहले नगर से लगे तेलवाड़ा गांव पहुुंचे जहां उन्होंने आपदा में मारे गए लोगों के स्वजनों का हाल जाना और उन्हें सांत्वना दी। बाद में उन्होंने सर्किट हाउस में आपदा प्रबंधन को लेकर जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में लोहाघाट के विधायक पूरन सिंह फत्र्याल का गुस्सा फूट पड़ा।

विधायक ने आपदा मंत्री धन सिंह रावत पर अपना सारा गुस्सा उतार दिया। उन्होंने आपदा राहत कार्यों में देरी होने का आरोप लगाया। कहा कि मंत्री उन्ही स्थानों पर आपदा का दौरा कर रहे हैं, जहां चॉपर उतर सके। उनकी विधानसभा में इस आपदा से सात लोगों की जान गई है लेकिन उस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहा।

विधायक यहीं नहीं रुके उन्होंने जिलाधिकारी को भी जमकर फटकारा। उन्होंने सीएम की मौजूदगी में ही डीएम द्वारा शासन को फर्जी आंकड़े भेजने का आरोप लगाया। विधायक फत्र्याल ने कहा कि वह पीडि़तों को ढाढ़स बंधाने हर क्षेत्र में गए और लोगों को हर संभव सहायता देने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन डीएम और प्रशासनिक अधिकारी उन क्षेत्रों में जाए सीएम के सामने फर्जी आंकड़े पेश कर रहे हैं। सुल्ला क्षेत्र में चार लोग आपदा में हताहत हुए लेकिन प्रशासन का एक भी बड़ा अधिकारी वहां नहीं पहुचा।

सीएम से कहा कि ऐसे अधिकारियों पर कड़ी कार्रवाई की जाए जो आपदा पीडि़तो की उपेक्षा कर सरकार को झूठे और फर्जी आंकडे देकर गुमराह करने में लगे है। उन्होंने कहा कि उनकी विधान सभा में भी आपदा से व्यापक नुकसान हुआ है लेकिन मंत्री तो छोडि़ए जिले के आला अधिकारियों ने भी आना उचित नहीं समझा। विधायक ने दिल्ली जाकर शिकायत करने और राजनीति छोडऩे तक की चेतावनी दे डाली। इस दौरान मंत्री चुपचाप विधायक की बातें सुनते रहे। खरी-खोटी सुनाने के बाद विधायक बैठक छोड़कर बाहर निकल आए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here