उत्तराखंड : बिटिया को 8 महीने पहले खुशी-खुशी किया था विदा, मौत, आरोप-बुलेट की मांग को लेकर पीटते थे

काशीपुर : उधमसिंह के काशीपुर से बड़ी खबर है। बता दें कि काशीपुर में 8 महीने बाद युवती की ससुराल में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। वहीं युवती के परिजनों ने ससुरालवालों पर हत्या का आरोप लगाया है। बेटी की मौत की खबर से परिवार में कोहराम मच गया। परिवार वालों का रो-रोकर बुरा हाल है। परिवार वालों ने 8 महीने पहले अपनी बिटिया को खुशी खुशी विदा किया था लेकिन उन्हें क्या पता था कि उसकी मौत की खबर ससुराल से आए।

ससुराल वालों ने मायके वालों को खबर दी

जानकारी मिली है कि युवती की शादी महज 8 महीने पहले ही हुई थी जिसकी उम्र करीबन 21 से 22 वर्ष थी। घरवालों ने खुशी खुशी बेटी को विदा किया था। लेकिन 8 महीने बाद ससुराल में उसकी मौत हो गई। ससुराल वालों ने मायके वालों को खबर दी कि उनकी बेटी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। ये खबर सुन परिवार वालों के पैरों तले जमीन खिसक गई। परिवार वालों ने ससुराल वालों पर हत्या का आरोप लगाया है। परिवार वालों का कहना है कि ससुराल वाले बुलेट की मांग को लेकर पीटते थे। साथ ही अगर वो जीजा या दीदी से बात करती थी तो पति शक करता था औऱ मारता था।

काशीपुर की दीपा की केलाखेड़ा में हुई थी शादी

बता दें कि काशीपुर निवासी दीपा का विवाह केलाखेड़ा की शांति कालोनी निवासी जगदीश से हुआ था। जहां अज्ञात कारणों के चलते दीपा ने घर में फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। परिजनों के घर पहुंचते ही घर में कोहराम मच गया। घटना की सूचना मिलते ही आसपास के लोग एकत्र हो गए और शव को फांसी के फंदे से नीचे उतारा। जिसके बाद लोगों ने घटना की सूचना तत्काल पुलिस को दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। वही विवाहिता के पिता राधेश्याम ने अपनी बेटी की हत्या करने का आरोप उसके ससुरालियों पर लगाया है। पिता ने बताया कि कुछ दिन पहले मोबाइल को लेकर इन दोनों का झगड़ा हुआ था जिस पर उन्होंने मौके पर पहुंचकर दोनों को समझा बुझा दिया था। उन्होंने बताया कि उनकी बेटी आत्महत्या नहीं कर सकती। वहीं सीओ दीपशिखा अग्रवाल ने बताया है कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और मामले की जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि तहरीर आने के बाद अग्रिम कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here