उत्तराखंड : पिता के साथ घर में चारपाई पर बैठे 4 साल के बच्चे को उठा ले गया तेंदुआ

नानकमत्ता : उत्तराखंड में गुलदार और तेंदुए का आतंक जारी है। ताजा मामला नानकमत्ता का है जहां ग्राम विडोरा मझोला में देर रात अपने पिता के पास अपने घर पर चारपाई में बैठे 4 साल के बच्चे को घर के पास ही घात लगाए बैठा तेंदुआ उठा ले गया। बच्चे का शव ग्रामीणों को बरामद हुआ जिससे परिवार में कोहराम मच गया और साथ ही पूरे गांव में दहशत का माहौल है।

पिता के साथ चारपाई पर बैठा था बच्चा

मिली जानकारी के मुताबिक घटना रात लगभग 8:30 बजे की है. बच्चा जब अपने पिता राज सिंह के साथ चारपाई पर बैठा था। तभी अचानक 4 वर्ष के लवजीत को घर के पास घात लगाए बैठे तेंदुया बच्चे को को खेतों की ओर उठा गया। हल्ला करने परगांव बाले मौके पर इकठ्ठा हो गए. तभी गाँव के लोगो ने बच्चे को ढूंढना शुरू किया लेकिन गांव वालों और घर वालों के ढूंढने पर बच्चा जब नहीं मिला तो किसी के बताने पर परिजन व पड़ोसी जंगल की ओर गए.

बच्चे के गले में दांतों के निशान

वहीं नदी के किनारे तेंदुआ बच्चे को छोड़कर भाग गया और नदी किनारे घायल अवस्था मे 4 वर्ष के लवजीत मिला। बच्चे के गले पर मिले तेंदुए के दांतों के निशान बने हुए थे। मौके पर पहुँची नानकमत्ता पुलिस ने घायल बच्चे को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सितारगंज लाए जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। वहीं नानकमत्ता विडोरा मझोला की इस घटना ने क्षेत्र में दहशत का माहौल है।

वहीं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में पहुंचे नानकमत्ता विधानसभा क्षेत्र के विधायक डॉ प्रेम सिंह राणा ने बच्चे के परिजनों से मिलकर उनका ढांढस बंधाया और घटना की जानकारी ली। वहीं नानकमत्ता विधायक डॉ प्रेम सिंह राणा ने बताया कि वन विभाग के डीएफओ से फोन पर वार्ता की गई है.

वन विभाग की ओर से दी जाएगी 4 लाख की धनराशि

साथ ही बताया कि बच्चे के परिजनों को वन विभाग की ओर से चार लाख की धनराशि के रूप में आर्थिक मदद की जाएगी और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से मुलाकात कर क्षेत्र की इस दुखद घटना के बारे में उनको अवगत कराया जाएगा और जो भी परिवार की मदद हो सकेगी उसको कराने को लेकर हमेशा तैयार हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here