उत्तराखंड: अचानक बढ़ा गंगा का जलस्तर, टापू पर फंसी 22 जिंदगियां 

ऋषकेश: तीन दिनों से लगातार हो रही बारिश से आपदा के हालात बने हुए हैं। पहाड़ी इलाकों में जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। भूस्खलन की घटनाएं सामने आ रही हैं।गंगा नदी का जलस्तर अचानक बढ़ जाने से रायवाला के पास गंगा के टापू में 22 लोग फंस गए। अस्थायी रूप से बनाया गया डेरा नदी के बहाव की चपेट में आ गया। बताया जा रहा है कि यह भी वन गुर्जर हैं और हाल ही में उत्तरकाशी से रायवाला आए थे।

बताया जा रहा है कि इनको हरिद्वार जाना था। मंगलवार सुबह कंट्रोल रूम से मिली सूचना पर रायवाला पुलिस व एसडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची और रेस्क्यू शुरू किया गया। टीम वोट की मदद से फंसे हुए व्यक्तियों तक पहुंची और उनको सकुशल बाहर निकाला।

रायवाला पुलिस प्रशासन ने टापू पर फंसे लोगों को रेस्क्यू कर बाहर निकाला इतना ही नहीं मित्र पुलिस प्रशासन ने उनकी व्यवस्था के लिए इंतजाम किए हैं। पुलिस प्रशासन ने खाने पीने की व्यवस्था भी की है। रायवाला के थानाध्यक्ष भुवन चंद्र पुजारी ने बताया कि वन गुर्जरों के चार डेरे से सम्बंधित यह लोग उत्तरकाशी से रायवाला आए थे और रात को गंगा पार डेरा बनाकर रुके थे, जिसमें 13 बच्चों सहित 22 लोग हैं। सभी को सुरक्षित निकाल लिया गया है।

उन्होंने बताया कि रविवार और सोमवार को हुई बारिश से गंगा का जलस्तर बढ़ गया है। खतरे को देखते हुए गंगा तटवर्ती क्षेत्र के नागरिकों को गंगा किनारे न जाने के लिए सूचित किया गया है। ग्राम प्रधानों को भी सूचना प्रसारित करने के लिए कहा गया है। वहीं डेरे में शामिल वन गुर्जर गुलाम रसूल ने बताया कि उनकी दो भैंसे नदी के बहाव में बह कर लापता हुई हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here