उत्तराखंड : कोरोना से रहें सावधान, चार गुना तेज रफ्तार से बढ़ रहे मामले, देखें आंकड़े

corona testing of kids

कोरोना फिर से रिकॉर्ड स्तर की ओर बढ़ रहा है। लगातार मामले सामने आ रहे हैं। पिछले कुछ दिनों की बात करें तो राज्य में कोरोना की रफ्तार चार गुना बढ़ गई है। रविवार को कोरोना के 259 मामले सामने आए हैं, जिनमें एक ही स्कूल के 91 मामले शामिल हैं। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि स्कूलों में कोरोना का खतरा किस तरह से बढ़ गया है।

कोरोना के आंकड़ों का विश्लेषण कर रही संस्था सोशल डेवलपमेंट फार कम्युनिटी फाउंडेशन ने इस पर रिपोर्ट जारी की है। संस्था के अध्यक्ष अनूप नौटियाल ने बताया कि राज्य में कोरोनाकाल के 94 सप्ताह बीत चुके हैं। दिसंबर की स्थिति देखें तो कोरोना का ग्राफ फिर तेजी से बढ़ रहा है। हर सप्ताह संक्रमण में इजाफा हो रहा है। ओमिक्रोन के बढ़ते खतरे के बीच यह बेहद चिंताजनक है।

सरकार ने हर दिन 25 हजार कोरोना जांच का लक्ष्य तय किया था। इस लिहाज से 94वें सप्ताह में एक लाख 75 हजार जांच होनी चाहिए थी, मगर इसके सापेक्ष एक लाख नौ हजार 621 (63 प्रतिशत) व्यक्तियों की जांच ही की गई। इससे संक्रमण की स्थिति की सही पहचान नहीं हो पा रही। इससे आने वाले दिनों में परेशानी बढ़ सकती है। उनका मानना है कि कोरोना के बढ़ते खतरे के बीच राजनीतिक दलों और आमजन के जिम्मेदारी लेने का समय आ गया है, अन्यथा परिणाम भयावह होंगे।

5-11 दिसंबर, 97, 0.10 प्रतिशत

12-18 दिसंबर, 136, 0.12 प्रतिशत

19-25 दिसंबर, 188, 0.16 प्रतिशत

26 दिसंबर-1 जनवरी, 439, 0.40 प्रतिशत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here