उत्तराखंड : IIM में मिले 5 कोरोना पॉजिटिव, स्टाफ और स्टूडेंट्स की सैंपलिंग शुरू

ऊधमसिंह नगर : कोरोना के मामले एक बार फिर तेजी से बढ़ने लगे हैं। कोरोना के मामले तेजी से सामने आने के बाद प्रदेशभर में फिर से कोरोना को लेकर सख्ती शुरू हो गई है। काशीपुर में स्थित आईआईएम में दो छात्राएं और एक छात्र समेत पांच लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इससे स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा है। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने आईआईएम के सभी छात्र-छात्राओं और स्टाफ की सैंपलिंग शुरू कर दी है। कोरोना नोडल अधिकारी डॉ. अमरजीत साहनी ने कहा कि 29 दिसंबर को मोहल्ला कटोराताल क्षेत्र निवासी और आईआईएम का एक 21 वर्षीय छात्र संक्रमित पाया गया था। जबकि 30 दिसंबर को आईआईएम की एक जमशेदपुर और दूसरी गाजियाबाद निवासी दो छात्राएं भी संक्रमित मिली हैं।

सैनिक कॉलोनी निवासी 50 वर्षीय एक महिला और माता मंदिर रोड निवासी 55 वर्षीय एक पुरुष में भी संक्रमण की पुष्टि हुई। ट्रैवल हिस्ट्री जांच में पता चला है 55 वर्षीय व्यक्ति कुछ दिन पूर्व दिल्ली से आये थे। सैनिक कॉलोनी निवासी महिला और माता मंदिर रोड निवासी एक व्यक्ति के परिजनों और आसपास रहने वालों की भी सैंपलिंग की जा रही है।कोरोना नोडल अधिकारी डॉ. अमरजीत साहनी ने कहा कि काशीपुर आईआईएम में सभी छात्रों और स्टाफ की सैंपलिंग के लिए स्वास्थ्य विभाग टीम को भेजा है। आईआईएम के हॉस्टल के 50 कमरों और 110 छात्राओं को कंटेनमेंट जोन में रखा गया है। एलडी भट्ट सरकारी अस्पताल काशीपुर के सीएमएस डॉ. पीके सिन्हा ने कहा, ’जिन छात्र-छात्राओं, महिला और पुरुष की रिपोर्ट पॉजिटिव आई हैं, उनकी जांच हल्द्वानी से अब देहरादून लैब जीनोम टेस्ट के लिए भेजी जा रही है।

एसएसबी में एक जवान कोरोना संक्रमित मिला है। बताया जा रहा है जवान अवकाश से वापस लौटा है। पीएमएस डॉ.राजेश आर्य ने कहा कि एसएसबी परिसर में आरटीपीसीआर सैंपलिंग की जायेगी। इधर, पावर ग्रिड परिसर में 20 वर्षीय युवक कोरोना संक्रमित मिला है। यह युवक हाल में दुबई से लौटा है। डॉ. राजेश आर्य के अनुसार, युवक को आइसोलेट किया है। ओमीक्रोन की जांच के लिए विभाग सैंपल ले रहा है। एसडीएम को पत्र लिखकर माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाने के लिए लिखा है। पावर ग्रिड परिसर में सैंपलिंग की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here