उत्तराखंड : क्रिसमस पर जाम से बेहाल, नए साल पर कैसा रहेगा हाल

देहरादून: नए साल का जश्न मनाने के लिए बड़ी संख्या में पर्यटक उत्तराखंड पहुंचे। राजधानी देहरादून से पहाड़ों की रानी मसूरी और नैनीताल में बड़ी संख्या में पर्यटकों का जमावड़ा लगा रहा। इस दौरान लोग जाम के झाम में फंसे रहे। व्यवस्थाएं पूरी तरह से पटरी से उतरी नजर आई। वहीं, पहाड़ के पर्यटन स्थलों पर भी पर्यटकों का जमावड़ा लगा रहा। क्रिसमस के बाद अब नए साल के जश्न के लिए चोपता, औली, धनोल्टी और हर्षिल में पर्यटकों के स्वागत के लिए खास तैयारियां की गई हैं।

सभी जगह होटल और रिजॉर्ट में एडवांस बुकिंग हो चुकी है। शनिवार को उमड़े पर्यटकों ने पहाड़ की वादियों में प्रकृति के नजारों का लुत्फ उठाया। हालांकि, पर्यटन स्थलों पर पार्किंग की कमी की वजह से उन्हें जाम से भी जूझना पड़ा। औली, चोपता, मंडल सहित विभिन्न पर्यटन स्थलों में पर्यटकों की खूब चहल-पहली बनी हुई है। शनिवार को चोपता में करीब एक किलोमीटर तक जाम लगा रहा। क्रिसमस के बाद नए साल के जश्न के लिए पर्यटक पहाड़ के पर्यटन स्थलों का रुख कर रहे हैं। इन दिनों पर्यटन स्थल पर्यटकों से भरे हुए हैं। औली, जोशीमठ, चोपता, दुग्गलभिट्टा, मंडल आदि पर्यटन स्थलों में होटलों में एडवांस बुकिंग चल रही है।

पर्यटकों के वाहनों के लिए चोपता में पार्किंग स्थल न होने के कारण पर्यटक सड़क किनारे ही अपने वाहनों को पार्किंग कर रहे हैं, जिससे यहां बार-बार जाम लग रहा है। इस दौरान करीब डेढ़ किलोमीटर तक जाम लगा रहा। इससे पर्यटक भी खासे परेशान नजर आए। पर्यटकों से इन दिनों औली गुलजार है। शनिवार को क्रिसमस पर औली में पर्यटकों की दिनभर चहल-पहल बनी रही।

पर्यटकों को औली में रात्रि विश्राम के लिए होटल और टैंट नहीं मिल पाए, जिससे अधिकांश पर्यटक ठहरने के लिए जोशीमठ पहुंचे। औली में दस नंबर टावर तक बर्फ बिछी हुई है। नए साल के जश्न के लिए पर्यटक स्थल हर्षिल तैयार है। यहां होटल, गेस्ट हाउस व होमस्टे आदि को पर्यटकों के लिए विशेष रूप से सजाया गया है। पर्यटक यहां बर्फीली ठंड में कैंप फायर के बीच नए साल का स्वागत करने के लिए पहुंचना शुरू हो गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here