उत्तराखंड: गैंग की तलाश में खाक छानती रही कई राज्यों की पुलिस, इन दो दरोगाओं ने ऐसे दबोचा

उत्तरकाशी: बड़कोट थाने और जिला मुख्यालय में तैनात दो दरोगाओं ने एक ऐसे जालसाज गैंग का खुलासा किया है, जिसने केवल उत्तराखंड में ही नहीं, देश के दूसरे राज्यों में भी लोगों को अपने झांसे में लिया और लोगों के करोड़ों लेकर फरार हो गए। गैंग के सरगना की गिरफ्तारी के बाद दूसरे राज्यों की पुलिस अब उत्तरकाशी पुलिस से संपर्क कर रही है। यह कोई आम गैंग नहीं। इस गैंग के तार दुबई तक जुड़े हैं। गैंग की तलाश कई थानों की पुलिस को थी, मामले की तह तक उत्तरकाशी पुलिस ही पहुंच पाई।

बड़कोट थाने में तैनात दरोगा सतबीर भंडारी और जिला मुख्यालय में तैनात रमन बिष्ट को एक फर्जी फर्म के संचालक के खिलाफ मिली शिकायत की जांच की सौंपी गई थी। दोनों ने मिलकर मामले की जांच शुरू की। जैसे-जैसे दोनों की जांच आगे बढ़, उलझे तार सुलझते चले गए और सब इंस्पेक्टर सतबीर भंडारी और रमन बिष्ट गैंग की गिरफ्तारी के लिए सहारनपुर रवाना हुए, लेकिन आरोपी वहां से दिल्ली पहुंच गया था। दोनों दरोगाओं ने सीधे दिल्ली का रुख किया और आरोप को दबोच लिया।

हॉलिडे हट्स कम्पनी में पैसे निवेश करने के नाम पर लोगों से करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी करने के 2 मामलों का खुलासा किया है। इस मामले में 2 जालसाझों को उत्तरकाशी पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार किया गया है। इनके खिलाफ सन्दीप नौटियाल भैरव चौक सुनारखोला बाडाहाट रेन्ज उत्तरकाशी ने हॉलिडे हट्स कम्पनी के मुख्य मालिक शाशा शुभम गुप्ता, मधु कोहली, सन्दीप पाण्डेय, तरुण छाबड़ा ने फर्जी अनुबंध से धोखाधड़ी कर उनके साथ कुल 2750000/की ठगी करने के सम्बन्ध मे एक लिखित तहरीर दी गयी।

तहरीर के आधार पर कोतवाली उत्तरकाशी पर मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू की। शुभम गुप्ता के खिलाफ नामजद किया गया। साथ ही थाना बड़कोट पर वादी विजय सिंह पुत्र धाम सिंह राणा निवासी ग्राम पाली पो. कुथनौर तहसील एंव थाना बड़कोट जनपद उत्तरकाशी के द्वारा उपरोक्त अभियुक्तगणों द्वारा अपने एंव उनके सहयोगी को कम्पनी मे पैसे निवेश करने के एवज में कुल 31,50000 की धोखाधड़ी करने के सम्बन्ध मे तहरीर दाखिल की गया थी।

एसपी उत्तरकाशी ने मामले के खुलासे और आरोपियों की गिरफ्तरी के निर्देश दिए। इसके लिए सीओ बड़कोट अनुज की देखरेख में एसओजी एवं पुलिस की संयुक्त टीम गठित की गयी। पुलिस टीम के द्वारा मोबाइल फोन सर्विलांस के आधार पर गहन सुरागरसी करते हुए मामले का सफल अनावरण कर मामलों से सम्बन्धित 2 अभियुक्त शाशा शुभम गुप्ता और तरुण छाबड़ा को कल की सायं को दिल्ली के नोवोटेल होटल एरोसिटी दिल्ली से गिरफ्तार किया गया।

यह अपने आप को हॉलिडे हट्स कम्पनी का संचालक बताते हुए कम्पनी में 3 से 5 प्रतिशत प्रति माह की व्याज दर पर पैसे निवेश करने तथा 15 माह बाद मूल धनराशि वापस या पंजाब, हिमाचल प्रदेश, देहरादून आदि स्थानों पर जमीन दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी करते थे। इन जालसाजों का बहुत बड़ा नेटवर्क है, जिसको ध्वस्त कर 2 जालसाजों को गिरफ्तार करने में उत्तरकाशी पुलिस कामयाब रही है। सह अभियुक्तों के सम्बन्ध मे जानकारी की जा रही है। ये बड़े शातिर जालसाज हैं।

इनके द्वारा लोगों को जमीन की रजिस्ट्री के फर्जी एग्रीमेंट भी दिये गये इनके द्वारा प्रारम्भ में क्रिप्टो कैरेन्सी में कई निवेशकों को जोड़ा गया, इनके द्वारा स्वयं की क्रिप्टो कैरेन्सी गल्फ कॉइन गोल्ड बनाया गया, जिसके माध्यम से इनके द्वारा कई लोगो को ठगी का शिकार बनाया गया। इनके द्वारा विभिन्न फर्जी कंपनियां हॉलिडे हट्स, एचएच ग्लोबल आदि खोलकर अलग-2 राज्यो के लोगो के साथ निवेश व जमीन खरीद फरोख्त के नाम पर ठगी की गयी।

गिरफ्तार अभियुक्त शाशा शुभम गुप्ता नेे दुबई में भी करोड़ों रुपये की ठगी की गई, जिसमें इसके खिलाफ दुबई पुलिस की ओर से नोटिस जारी किया गया था। इनके खिलाफ ठगी करने के जनपद उत्तरकाशी में 2 और देहरादून में 2 मामले भी पंजीकृत हैं। अन्य राज्यों में भी ठगी करने के मामलों मे इनकी संलिप्तता की जानकारी जूटाई जा रही है। इस मामले में पुलिस ने शाशा शुभम गुप्ता, तरुण छाबड़ा को गिरफ्तार किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here