सुरक्षा हटी-दुर्घटना घटी : रुड़की IIT के छात्र में कोरोना की पुष्टि, युगांडा से आया था भारत

रुड़की : उत्तराखंड में एक बार फिर से कोरोना का खतरा बढ़ने लगा है। बाहरी राज्यों और विदेशों से आने वालों की सख्ती से जांच न करना उत्तराखंड को भारी पड़ सकता है। लोग लापरवाह हो चुके हैं। लोग बिन मास्क के घूम रहे हैं और साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए भी कोई नजर नहीं आ रहा है।

दो स्कूलों के पांच छात्रों में कोरोना की पुष्टि

आपको बता दें कि उत्तराखंड में स्कूल खुल चुके है। फ्लाइटें शुरु हो चुकी है। इसी के साथ स्कूलों में बच्चों में कोरोना की पुष्टि भी होने लगी है. बता दें कि उत्तराखंड में दो अलग-अलग स्कूलों में 5 छात्रों में कोरोना की पुष्टि हुई है। वहीं इसी के साथ बड़ी खबर रु़ड़की आईआईटी से है।

आइआईटी कॉलेज में बढ़ा खतरा

बता दें कि आइआइटी रुड़की के एक छात्र में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। आइआइटी रुड़की का यह छात्र 28 सितंबर को युगांडा से भारत आया था। स्वास्थ्य ठीक नहीं होने के चलते सात अक्टूबर को छात्र की कोविड-19 जांच कराई गई थी। मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा संजय कंसल ने बताया कि छात्र की कोरोना जांच रिपोर्ट पाजिटिव आई है।

छात्र के संपर्क में आए अन्य छात्रों की भी कोविड-19 की जांच कराई जाएगी। स्वास्थ्य विभाग की एक टीम आइआइटी जाकर छात्रों के सैंपल लेगी। छात्र के साथ पांच अन्य छात्र भी युगांडा से आए थे, लेकिन उनकी कोरोना जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here