11 महीने बाद खुले 6वीं से 8वीं क्लास तक के बच्चों के लिए स्कूल, कुछ ऐसा था माहौल, ये तैयारियां

हल्द्वानी : प्रदेश सरकार की एसपीओ के मुताबिक आज से कक्षा 6 से बारहवीं तक के स्कूल खुल गए हैं, सुबह से ही स्कूलों में बच्चों की अच्छी खासी तादाद देखने को मिल रही है। कोविड-19 के मुताबिक स्कूल में सैनिटाइजर और मास्क का प्रयोग अनिवार्य किया गया है, कक्षा में प्रवेश करने से पहले बच्चों को सैनिटाइज किया जा रहा है। बिना मास्क लगाए स्कूल में आने की अनुमति नहीं है। स्कूल के गेट पर ही बच्चों का तापमान लिया जा रहा है, जिसके बाद ही बच्चे अपनी कक्षा में प्रवेश कर पा रहे हैं।

हालांकि स्कूल में सैनिटाइजेशन, स्क्रीनिंग और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराना स्कूल प्रबंधन के लिए बड़ी चुनौती के रूप में सामने आ रहा है, नैनीताल जिले में करीब 1200 स्कूल आज से खुल गए हैं। करीब 10 महीने बाद जब स्कूल खुले तो स्कूलों में खासी रौनक दिखी। छात्र-छात्राओं ने भी लंबे समय बाद स्कूल खुलने पर खुशी जताई, उनके मुताबिक स्कूल खुलने के बाद काफी अच्छा महसूस हो रहा है। 10वीं-12वीं क्लास के बच्चे तो पहले से ही स्कूल आ रहे थे जो लगातार सोशल डिस्टेंसिंग का प्रयोग कर रहे हैं और कोविड नियमों के प्रति जागरूक भी हैं। स्कूल प्रबंधक भी कोविड-19 प्रति जागरूक हैं और सुबह से ही सैनिटाइजर और मास्क के प्रयोग के प्रति बच्चों को जागरूक कर रहे हैं, साथ ही बिना मास्क स्कूल में प्रवेश करने वाले छात्र-छात्राओं पर कड़ी नजर रख रहे हैं। उनके मुताबिक प्रदेश सरकार ने जो एसओपी जारी की है उसका पूरी तरह पालन कराया जाएगा।

रामनगर में भी खोले गए स्कूल

वहीं रामनगर 11 महीने बाद सोमवार को छठी से आठवीं क्लास तक के बच्चों के लिए भी स्कूल खोले गए। स्कूल खुलने पर बच्चों में भी खासा उत्साह देखने को मिला। स्कूल में सरकार की गाइडलाइन के मुताबिक थर्मल स्कैनिंग, सेनेटाइजेशन के साथ ही सोशल डिस्टेंस का भी ध्यान रखा जा रहा है। बच्चे स्कूल खुलने से खुश हैं। क्योंकि ऑनलाइन पढ़ाई के डाउट्स भी वह क्लियर कर पाएंगे। साथ ही इतने महीनों बाद दोस्तो से मिलने की खुशी उनके चेहरे में साफ दिखाई दे रही थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here