उत्तराखंड। मंत्री रेखा आर्या बोलीं, कनपटी पर बंदूक तो नहीं रखी!

rekha arya

 

देहरादून। राज्य की कैबिनेट मंंत्री रेखा आर्य ने उनके निजी कार्यक्रम को लेकर जारी हुए सरकारी लेटर के मसले पर अपनी चुप्पी तोड़ी है। रेखा आर्या ने कहा है कि कार्यक्रम की जानकारी ही तो दी गई है कोई कनपटी पर बंदूक थोड़े रखी गई है।

रेखा आर्या ने इस सरकार निमंत्रण नुमा जानकारी से अपना पल्ला भी झाड़ लिया है। रेखा आर्या ने कहा है कि जिसने चिट्ठी जारी की उससे पूछा जाना चाहिए।

दरअसल रेखा आर्या खाद्य विभाग की सर्वेसर्वा हैं। वो 4 अगस्त से अपने बरेली स्थित निवास पर शिवलिंग की स्थापना का एक धार्मिक कार्यक्रम करा रहीं हैं। इस कार्यक्रम के बारे में विभाग के अधिकारियों को बाकायदा सरकारी कागज पर जानकारी दी गई है। यही नहीं अपर आयुक्त के दस्तखत से जारी लेटर में कार्यक्रम का निमंत्रण पत्र भी है। इसी लेटर को लेकर हंगामा मचा है। कांग्रेस ने इस मसले पर सीएम को चिट्ठी लिख दी है। कांग्रेस ने पूछा है कि जब कार्यक्रम निजी है तो चिट्ठी सरकारी क्यों है?

बड़ा खुलासा। रेखा आर्या करा रहीं बरेली में शिवलिंग स्थापना, विभाग में बंट रहा निमंत्रण!

अब मीडिया ने रेखा आर्या से भी इस लेटर पर प्रतिक्रिया ली है। रेखा आर्या ने कहा है कि इस कार्यक्रम में किसी को आने के लिए बाध्य नहीं किया जा रहा है। जो स्वेच्छा से आना चाहे वो आ सकता है। रेखा आर्या ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा है कि छोटी मानसिकता के लोग इस पर सवाल उठा रहें हैं।

रेखा आर्या ने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष करण माहरा के पत्र को आड़े हाथों लेते हुए कहा है कि जब एक पूर्व मुख्यमंत्री की बेटी की शादी हो रही थी तब करण माहरा के ये लेटर कहां थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here