उत्तरकाशी में बारिश का कहर, गंगोत्री और यमनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग समेत कई रास्ते बंद

उत्तरकाशी : उत्तराखंड में बीते दिन कई दिनों से बारिश के कारण तबाही मची। कई रास्ते बंद हो गए। कई लोगों की जान इस आफत की बारिश में गई। नदी नाले उफान पर आ गए। कई वाहन उफनते पानी में बह गए। प्रदेश भर में नदियों ने विकराल रुप धारण कर रखा है। वहीं बता दें कि इस बारिश से उत्तरकाशी में बुरा हाल है। मंगलवार की रात से रुक-रुककर बारिश हो रही है। उत्तरकाशी के बड़कोट में कई घंटे बिजली गुल है जिससे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। उत्तरकाशी के कई क्षेत्र में भूस्खलन हुआ है जिससे गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग नगुण बैरियर और हेल्गु गाड़ के पास बंद है। कई वाहन फंस गए हैं। वहीं कई मकान भी क्षतिग्रस्त हुए हैं।

मिली जानकारी के कराण यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग कल्याणी, पालीगाड़ और ओजरी के पास तीन स्थानों पर भारी भूस्खलन आने के कारण बंद हो गया है। इसके साथ ही उत्तरकाशी के 33 संपर्क मार्ग भी बंद हैं। जिनसे 50 से अधिक गांवों का संपर्क कटा हुआ है। नौगांव के कलोगी में भूस्खलन होने से गौशाला में बंधी तीन गाय की दबकर मौत हो गई है।

गत बुधवार को मातली गांव में भूस्खलन की जद में एक छानी आयी थी। जिसमें तीन खच्चर मलबे में दबे। एक की घटना स्थल पर ही मौत हो गई थी तथा दो की हालत गंभीर है। परिवार को निकटवती पंचायती घर में शिफ्ट किया गया है। बुधवार की देर रात को जिला मुख्यालय उत्तरकाशी सहित आसपास के क्षेत्रों में संचार सेवा सुचारू हो पायी। जबकि यमुना घाटी में देर रात को बिजली आपूर्ति सुचारू हुई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here