पौड़ी DM ने किया नेशनल हाईवे चमधार में भूस्खलन क्षेत्र का निरीक्षण, अधिकारियों को दिए ये निर्देश

पौड़ी गढ़वाल : पौड़ी डीएम डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने आज राष्ट्रीय राजमार्ग चमधार में भूस्खलन क्षेत्र का स्थलीय निरीक्षण किया। उन्होनें सम्बन्धित अधिकारी को सतर्कता बरतते हुए मोटर मार्ग को सुचारू करने के दिये निर्देश। उन्होंने कार्य स्थल में सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुए कार्य स्थल में लाउडस्पीकर स्थापित कर कर्मचारी की तैनाती करने निर्देश भी दिए। उन्होंने सम्बन्धित कार्यदाई संस्था के पदाधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि मार्ग पर डोर बेरियर लगाये, ताकि भूस्खलन से किसी भी व्यक्ति को किसी भी प्रकार से जानमाल का खतरा न हो। उन्होंने सम्बन्धित अधिकारी को निर्देशित किया कि भूस्खलन क्षेत्र की वस्तु स्थिति की सूचना प्रतिदिन फोटोग्राफस् सहित उपजिलाधिकारी व सूचना अधिकारी को उपलब्ध कराने को तथा सूचना अधिकारी को प्रतिदिन प्रेस नोट जारी करने के निर्देश दिए, ताकि आवाजाही करने वालों को सही जानकारी मिल सके।

बुधाणी-खिर्सू मोटर मार्ग पर यातायात को डायवर्ट करें-डीएम

डीएम ने उपजिलाधिकारी को निर्देशित किया कि मार्ग अवरुद्ध रहने के दौरान बुधाणी-खिर्सू मोटर मार्ग पर यातायात को डायवर्ट करें। जिलाधिकारी डॉ. जोगदण्डे ने आज राष्ट्रीय राजमार्ग चमधार का जायजा लेते हुए सम्बन्धित अधिकारी को निर्देशित किया कि सावधानी बरतते हुए निर्माण कार्य करें। कहा कि रात के समय भी कार्य करने के लिए लाइट की व्यवस्था की जाएगी। साथ ही उन्होंने सम्बन्धित अधिकारी को निर्देशित किया कि पत्थर गिरते समय लाउडस्पीकर के माध्यम से कार्य करने वाले मजदूरों और अन्य लोगों को सतर्क करें, ताकि कोई हादसा न हो।

भूस्खलन क्षेत्र में खतरे के जद में आ रहे पॉल को हटाकर दूसरी जगह शिफ्ट कराएं-DM

डीएम ने कहा कि जब तक मार्ग पूर्ण रूप से व्यवस्थित नहीं होता है, तब तक बुधाणी-खिर्सू वैकल्पिक मोटर मार्ग से लोगों को आवाजाही कराए, ताकि राष्ट्रीय राजमार्ग भूस्खलन क्षेत्र चमधार में तेजी से कार्य हो सके। इसके अलावा उन्होंने उपजिलाधिकारी श्रीनगर को निर्देशित किया कि भूस्खलन क्षेत्र में खतरे के जद में आ रहे विद्युत पॉल को हटाकर दूसरी जगह शिफ्ट कराएं, ताकि विद्युत आपूर्ति सुचारू रूप से बनी रहे। उन्होंने कहा कि प्रभावित क्षेत्र में दीवार, कंक्रीट की दीवार व बोल्डर नेट आदि जो भी आवश्यक सामाग्री को लगाया जाना है, लगाना सुनिश्चित करें, जिससे पहाड़ी से आने वाले पत्थरों से बचाव हो सके।

जिलाधिकारी ने चमधार में निरीक्षण के दौरान सर्वसाधारण को सूचित करते हुए कहा कि श्रीनगर से आगे चमधार के पास मलवा आने से श्रीनगर-बद्रीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग है। एन.एच. के अधिकारियों द्वारा लगातार सड़क खोलने का प्रयास जारी है। कहा कि बीती शाम को राजमार्ग खोल दिया गया था, लेकिन सुबह मलवा आने से राजमार्ग पुनः बाधित हो गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here