मंदिर के बरामदे में रोता मिला डेढ़ महीने का नवजात, पसीजा पुलिस का दिल, मां की तलाश में जुटी

नैनीताल : नैनीताल के रामगढ़ क्षेत्र स्थित सालड़ी देवी मंदिर में सोमवार को हड़कंप मच गया। बता दें कि मंदिर में पूजा-अर्चना करने पहुंची कुछ महिलाओं ने मंदिर के बरामदे में करीब डेढ़ महीने के नवजात शिशु को रोता हुआ देखा। वहां मौजूद महिलाओं का उस बच्चे को देख दिल पसीज गया। मौके पर पुलिस को बुलाया गया। खाकी धारी एक महिला कांस्टेबल ने नवजात को सीने लगाया जिसकी फोटो जमकर वायरल हो रही है। पुलिस बच्चे की मां की तलाश में जुटी है।

ग्राम प्रधान ने पुलिस को दी जानकारी

आपको बता दें कि मंदिर के मुख्य द्वार के समीप ही दुकान चलाने वाले पूर्व ग्राम प्रधान लक्ष्मण सिंह मेहरा ने बताया कि दोपहर करीब 3 बजे के आसपास 23-24 साल की महिला बच्चे को लेकर मंदिर आई थी। कुछ ही देर बाद वह लौट गई, जब उन्हें कुछ अजीब होने की आशंका हुई तो वो मंदिर में पहुंचे। मंदिर में बच्चे को किसी दूसरी महिला की गोद में देख वह हैरान रह गए। उन्होंने पूछा तो महिला ने पूर्व ग्राम प्रधान को सारी जानकारी दी, तब ग्राम प्रधान ने चौकी पुलिस को सूचना दी।आनन-फानन में खैरना चौकी से पुलिस पहुंची और बच्चे को स्वास्थ्य जांच के लिए भवाली ले जाया गया, जहां से उसे एसटीएच भेज दिया गया। बच्चा एकदम स्वस्थ बताया जा रहा है।

पुलिस ने की दूध और कपड़े की व्यवस्था

इस दौरान एक बार फिर से खाकी का अगल रुप देखने को मिला। खैरना चौकी में तैनात आंनदी टम्टा ने सुरक्षित ढंग से शिशु को भवाली कोतवाली पहुंचाया तो वहीं भवाली कोतवाली में तैनात महिला पुलिस कर्मियों ने बच्चे को दूध समेत कपड़े आदि की भी व्यवस्था की। यही नहीं बच्चे को कान्हा नाम भी दे दिया गया। खैरना चौकी प्रभारी आशा बिष्ट ने बताया कि बच्चे को छोडऩे वाली महिला कौन थी, इसका पता लगाने का प्रयास कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here