उत्तराखंड: सड़कों पर मौन उपवास करेंगे पूर्व CM हरीश रावत, ये है बड़ा कारण

हल्द्वानी: राज्य स्थापना दिवस के दिन आज पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने लालकुआं से काठगोदाम राष्ट्रीय राजमार्ग 109 की दुर्दशा के खिलाफ गोरापड़ाव में मौन उपवास रखा, इस दौरान पूर्व कैबिनेट मंत्री व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता यशपाल आर्य, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष गोविंद सिंह कुंजवाल, पूर्व कैबिनेट मंत्री हरीश चंद्र दुर्गापाल सहित सैकड़ों कांग्रेस कार्यकर्ता उपवास पर बैठे।

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा की वर्तमान सरकार में सड़कों पर बड़े-बड़े गड्ढे बने हैं जो कि सरकार के आपराधिक कृत्य के समान है, उन्होंने कहा कि सरकार ने एनएच-109 की दुर्दशा की है पूरे राज्य में सड़कों की हालत बेहद खराब है जो सरकार की अपराधिक स्तर की उपेक्षा है। रोजाना लाखों पर्यटक जब नैनीताल में प्रवेश करते होंगे तो उन्हें कैसा महसूस होता होगा ?

यह सरकार की अकर्मण्यता है या नालायकी है कि सारे देश में राज्य की सड़कों को लेकर खराब संदेश जा रहा है। पूर्व कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य ने कहा कि यह कुमाऊं को जोड़ने वाला राष्ट्रीय राजमार्ग है और इसकी दुर्दशा किसी से छिपी नहीं है, यशपाल आर्य ने कहा कि न सिर्फ नेशनल हाईवे बल्कि राज्य के स्टेट हाईवे भी जर्जर हालत में है।

राज्य स्थापना दिवस पर बोलते हुए पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाने वाली भाजपा ने वहां एक बोर्ड तक नहीं लगाया तो यह उत्तराखंड का क्या विकास करेंगे, भाजपा सरकार केवल विकास के बड़े-बड़े दावे करती है, राज्य को बने हुए 21 साल हो गए है लेकिन यहां के लोग आज भी मूलभूत सुविधाओं से वंचित है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here