उत्तराखंड : मेरा बूथ, मेरा गौरव अभियान शुरू, क्या इससे होगी कांग्रेस की वापसी

देहरादून: उत्तराखंड कांग्रेस ने चुनाव को लेकर तैयारियां तेज कर दी हैं। कांग्रेस कमेटी ने आगामी विधानसभा चुनावों को देखते हुए बूथ स्तरीय कार्यकर्ताओं को चुनाव प्रबंधन में भागीदारी और स्वामित्व देते देने की योजना तैयार की है। इसके तहत मेरा बूथ-मेरा गौरव से खास नाम से एक खास अभियान चालाया जाएगा। पूर्व मुख्यमंत्री और चुनाव संचालन समिति के अध्यक्ष हरीश रावत ने कहा कि इस अभियान से मतदान पर बहुत गहरा प्रभाव पड़ने वाला है। उन्होंने कहा कि बदलते दौर में राजनीति परिवेश में काफी बदलाव आया है। कांग्रेस के लिए अब जरूरी है कि बूथ पर खड़े कार्यकर्ता को नई तकनीक से जोड़े और विपक्ष के भ्रष्ट एजेंडों के प्रति जागरुक करे।

पूर्व सीएम हरीश रावत ने कहा कि मेरा बूथ, मेरा गौरव अभियान में सक्रिय भागीदारी करने वाले कार्यकर्ताओं का पार्टी पूरा ध्यान रखेगी। सरकार में आये तो सरकारी क्रियाकलापों में भी बूथ कार्यकर्ताओं को शामिल किया जाएगा। कांग्रेस का कहना है कि कांग्रेस पार्टी का मानना है कि कांग्रेस के लाखों कार्यकर्ता पार्टी की जान और शान हैं। इन कार्यकर्ताओं ने विषम राजनीतिक परिस्थितयों में पार्टी का साथ देकर, धर्मनिरपेक्षता, समाजवाद और लोकतंत्र के मूलभूत सिधान्तों का मजबूत करने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया है।

कांग्रेस पार्टी बूथ स्तरीय कार्यकर्ताओं को आने वाले चुनावों के साथ साथ भविष्य में होने वाले पार्टी कार्यक्रमों में स्वायत्ता और स्वामित्व देने के उद्देश्य से इस कार्यक्रम की शुरुआत कर रही है। सरकार बनने के बाद, बूथ स्तर पर होने वाले विकास कार्यक्रमों की निगरानी का महत्वपूर्ण काम भी बूथ स्तरीय कार्यकर्ता करेंगे, ताकि कांग्रेस सरकार में होने वाले विकास कार्यों का फायदा राज्य के दूर दराज क्षेत्रों तक समान रूप से पहुँच सकें।

देवेंद्र यादव ने कहा कि बूथ की मजबूती और बूथ स्तरीय कार्यकर्ताओं का सम्मान कांग्रेस पार्टी की प्राथमिकता में रहा है। हम जब भी किसी कार्यक्रम में जाता हैं तो हमारी कोशिश होती है कि बूथ स्तरीय कार्यकर्ताओं से मिलें, उनसे उनके व्यक्तिगत जीवन के अलावा, जमीनी स्तर के राजनीतिक हालात की चर्चा अवश्य करें। इसीलिए इस चुनाव के दौरान भी हमारा पूरा ध्यान बूथ स्तरीय कार्यकर्ताओं पर है। हमनें राज्य स्तर पर दो दिवसीय प्रशिक्षण शिविर आयोजित किया था, अब हम प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में बूथ स्तरीय कार्यकर्ताओं का प्रशिक्षण आयोजित कर रहे हैं और इसी क्रम में अगले एक महीने के अंदर बूथ स्तरीय कार्यकर्ताओं का सम्मेलन आयोजित किया जायेगा।

मेरा बूथ, मेरा गौरव को सुचारू रूप से चलाने और प्रत्येक बूथ के कार्यकर्ताओं की इस कार्यक्रम के साथ सीधी भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए, प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने एक बृहद प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करने का फैसला लिया है। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के लिए मास्टर ट्रेनर बनाने के लिए 9 और 10 अक्टूबर को हरिद्वार में राज्य स्तरीय प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया था। राज्यस्तरीय प्रशिक्षण में प्रशिक्षित कार्यकर्ता, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के प्रशिक्षण विभाग के कार्यकर्ताओं के नेत्रत्व और दिशा निर्देशन में 27 अक्टूबर से विभिन्न विधान सभा क्षेत्रों में प्रशिक्षण देंगे।

इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के लिए पांच संसदीय क्षेत्र के लिए पांच संयोजक नियुक्त किये गये हैं। टिहरी लोकसभा क्षेत्र मेंजोत सिंह बिष्ट, पौड़ी लोकसभा क्षेत्र में मनीष खण्डूरी, हरिद्वार संसदीय क्षेत्र में काजी निजामुद्दीन, अल्मोड़ा संसदीय क्षेत्र ललित फर्स्वान और नैनीताल संसदीय क्षेत्र में हरीश कुमार सिंह को पार्टी की तरफ से इन प्रशिक्षण कार्यकर्मों की जिम्मेदारी दी गई है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने कार्यकर्ताओं का आह्वाहन किया कि वे घर-घर कांग्रेस पार्टी के विचार, इतिहास और देश के विकास में भूमिका के बारे में चर्चा करें। ये चुनाव सिर्फ सत्ता परिवर्तन का चुनाव ही नहीं है। देश की आजादी, समाजवादी, धर्म निरपेक्ष सोच और कल्याणकारी राज्य की अवधारणा को बचाने का अभियान भी है।

नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि भविष्य की कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर आधारित होगी। राहुल गांधी जी की लगातार कोशिश है कि बूथ स्तर से पार्टी को मजबूत किया जाये और पार्टी संगठन में बूथ स्तरीय कार्यकर्ताओं की भूमिका सुनिश्चित की जाये। मेरा सभी कार्यकर्ताओं से निवेदन है कि वे अपनी बूथ को अपना गौरव मानते हुए, पार्टी प्रत्याशी को अधिकतम वोटों से विजयी बनाने में योगदान दें। मैं पार्टी की तरफ से वायदा करता हूं कि जिस बूथ पर सबसे अधिक वोट प्राप्त होंगे, उसके कार्यकर्ताओं को संगठन में सम्मानित किया जाएगा।

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की सचिव और उत्तराखंड राज्य सह प्रभारी दीपिका पाण्डे ने कायर्कम की विस्तृत रूप रेखा रखते हुए बताया कि इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत कांग्रेस पार्टी अगले एक महीने में राज्य के सभी बूथ तक पहुंचेगी। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड राज्य सैनिक बहुल राज्य है, हम इस राज्य की सैनिक परंपरा के अनुरूप ही इस प्रशिक्षण कार्यक्रम को आयोजित कर रहे हैं। देश के बहादुर सैनिक जानते हैं कि प्रशिक्षण में बहाया गया पसीना युद्ध में खून बचाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here