कोटद्वार : सेल्फी के चक्कर में युवकों ने हाथियों को चिढ़ाया, ‘मौत के भंवर’ में फंसे और दौड़े

कोटद्वार: युवाओं का आजकल का सबसे बड़ा शोक है सेल्फी लेना। सेल्फी के चक्कर में कई लोगों ने अपनी जान गंवाई तो वहीं कइय़ों ने अपनी जान खतरे में डाली और मौत को न्यौता दिया। सेल्फी का क्रेज युवाओ में इतना बढ़ गया है कि उन्हें ओरों की छोड़ों आपनी भी जान की परवाह नहीं है। कभी नदीं में तो कभी ऊंचे पहाड़ों में तो कभी चलती कार और बाइक में सेल्फी का क्रेज देखा गया है लेकिन कोटद्वार में युवाओं में एक अनोखा सेल्फी क्रेज देखने को मिला। मामला कोटद्वार के सिद्धबली मंदिर के क्षेत्र का है।

दरअसल कोटद्वार के सिद्धबली मंदिर के पास स्थित खोह नदी में हाथियों का झुंड लैंसडौन वन प्रभाग के जंगलों से निकलकर पानी पीने आया था। हाथी राष्ट्रीय राजमार्ग-534 से होकर खोह नदी में उतर गए।हाथियों के झुंड पर युवकों की नजर पड़ गई और सभी युवक सेल्फी लेने नदी में चले गए। युवकों खूब शोर गुल कर सेल्फी लेने लगे लेकिन कुछ देर बाद ये सेल्फी उनके गले की फांस बन गई। युवकों ने सेल्फी के चक्कर में हाथियों के झुंड को चिढ़ा दिया। फिर हाथियों ने युवकों को खूब दौड़ा दिया। .युवकों समेत लोगों में हड़कंप मच गया। युवक जैसे तैसे जान भगाकर भागे।

आपको बता दें कि अक्सर कोटद्वार-दुगड्डा के मध्य राष्ट्रीय राजमार्ग के साथ ही रामणी-पुलिंडा मोटर मार्ग पर हाथियों का आना जाना लगा रहता है जिससे कई बार वहां लंबा जाम लग जाता है. कई बार लोग अपनी जान बचाकर भागे हैं लेकिन आज कल के युवा खुद मौत के मुंह में जाने का काम करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here