कैसे भरेंगे सड़कों के गड्ढे जब ये है PWD विभाग के हाल, RTI में बड़ा खुलासा

देहरादून। देहरादून समेत कई जिलों की सड़कों की हालत बद्तर है। आए दिन गड्ढों के कारण हादसे होर हे हैं। सरकार अच्छी सड़कों का दावा करती आ रही है लेकिन बता दें कि आरटीआई के खुलासे से साफ है कि जब लोनिवि में इंजीनियरों के पद खाली पड़े हैं तो भला ये काम कौन करेगा। जी हां बता दें कि आरटीआई में खुलासा हुआ है कि pwd में इंजीनियरों के चौथाई से अधिक पद खाली है। और तो और विभाग के मुखिया प्रमुख अभियंता का पद भी खाली है।

आरटीआई में खुलासा

आपको बता दें कि काशीपुर निवासी सूचना अधिकार कार्यकर्ता और वरिष्ठ अधिवक्ता नदीम उद्दीन ने आरटीआई डालकर जानकारी मांगी थी। आरटीआई में खुलासा हुआ पीडब्ल्यूडी विभाग में इंजीनियरों के कुल 1756 पद स्वीकृत हैं। उनमें से 26% से अधिक 460 पद रिक्त हैं। केवल 1296 पदों पर ही नियमित अधिकारी कार्यरत हैं। रिक्त पदों में विभाग के मुखिया प्रमुख अभियंता का एक पद भी शामिल है। यह पद अतिरिक्त प्रभार से चलाया जा रहा है।

इतने पद खाली

मुख्य अभियंता स्तर-1 के 3 स्वीकृत पदों में से एक रिक्त है। मुख्य अभियंता स्तर-2 के 7 में से एक  पद रिक्त है। अधीक्षण अभियंता (सिविल) के 21 में से 2 पद रिक्त है। लेकिन इन 2 पदों के कार्यरत प्र्रभारी 3 अधिकारी होने की सूचना दी गयी है। केवल अधीक्षण अभियंता (वि/यां.) के दो पद ही पूर्ण रूप से भरे है। अधिशासी अभियंता (सिविल) के निः सवर्गीय 36 मिलाकर कुल 129 पद स्वीकृत है। इसमें से केवल 75 पर नियमित अधिकारी कार्यरत है जबकि 42 प्रतिशत 54 पद रिक्त हैं। यद्यपि 20 पर प्रभारी कार्यरत हैं।

अधिशासी अभियंता (वि./यां0) के 6 में से आधे 3 पद रिक्त है। इन सभी पर प्रभारी कार्यरत है। सहायक अभियंता (सिविल) के निः सवर्गीय 89 पदों सहित कुल 454 पद स्वीकृत है जबकि इनमें से 296 पर नियमित अधिकारी कार्यरत है जबकि 35 प्रतिशत 158 पद रिक्त है। यद्यपि 119 पदों पर प्रभारी कार्यरत हैं। सहायक अभियंता (वि./यां0) के कुल 28 पद स्वीकृत है जिसमें से 26 पर नियमित अधिकारी कार्यरत हैजबकि 7 प्रतिशत 2 पद रिक्त है। आश्चर्यजनक रूप से इन 2 पदो पर तिगुने 6 प्रभारी अधिकारी दर्शाये गये है।

लोक निर्माण विभाग में फील्ड में कार्य करने वाले पद कनिष्ठ अभियंता (जे.ई.) के सर्वाधिक 238 पद रिक्त है। इनमें से 189 सिविल, 23 प्राविधिक, 04 यांत्रिक तथा 22 विद्युत के शामिल है। यह रिक्त पद कुल स्वीकृत पदों 1105 के 21 प्र्रतिशत से अधिक है जबकि केवल 867 पदों पर ही नियमित अधिकारी शामिल है। जबकि आश्र्चजनक रूप से 238 रिक्त पदो के सापेक्ष 66 अधिक 304 संविदा इंजीनियर कार्यरत है। इसमें सर्वाधिक कानिष्ठ अभियंता (सिविल) के 189 रिक्त पदों पर 288 सविंदा इंजीनियर कार्यरत है जबकि कनिष्ठ अभियंता (प्राविधिक) के 23 पदों में से केवल 8 पर ही संविदा इंजीनियर कार्यरत है, कनिष्ठ अभियंता (यांत्रिक) के 4 रिक्त पदो पर 5 अभियंता कार्यरत है, कनिष्ठ अभियंता (विद्युत) का रिक्त पद है इस पर कोई संविदा अभियंता कार्यरत नहीं है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here