UKSSSC पेपर लीक में जिला पंचायत सदस्य गिरफ्तार, एक महिला जनप्रतिनिधि रडार पर

HAKAM SINGH RAWATउत्तराखंड अधिनस्थ सेवा चयन आयोग (UKSSSC) पेपर लीक मामले में एसटीएफ के शिकंजे में इस गोरखधंधे से जुड़ी एक बड़ी मछली आई है। एसटीएफ ने जिला पंचायत सदस्य हाकम सिंह को अरेस्ट कर लिया है।

दरअसल हाकम सिंह पिछले लगभग एक पखवाड़े से एसटीएफ के निशाने पर थे और लगातार उनपर नजर रखी जा रही थी। हाकम सिंह के विदेश में होने के चलते उनसे पूछताछ नहीं हो पा रही थी। पता चला है कि एसटीएफ पकड़े जा रहे लोगों से भी हाकम की भूमिको को लेकर पूछताछ की जा रही थी।

एसटीएफ ने हाकम सिंह को लेकर पुख्ता सबूत इकट्ठा किए। उसका इंतजार किया और फिर अरेस्ट कर लिया। दरअसल हाकम सिंह पिछले कई दिनों से बैंकाक में था। लिहाजा एसटीएफ उससे पूछताछ नहीं कर पा रही थी। इसी बीच हाकम लौटा और उसे बीते दिनों उत्तरकाशी के मोरी के कोटगांव सांकरी में अपने रिजॉर्ट में देखा गया था।  शनिवार देर शाम वह पंजाब नंबर की एक कार से हिमाचल प्रदेश की ओर जा रहा था। इसी दौरान एसटीएफ और स्थानीय पुलिस ने आराकोट बैरियर पर उसे हिरासत में ले लिया।

भुवन कापड़ी की मांग, पेपर लीक की हो CBI जांच, आयोग के अध्यक्ष और सचिव को घेरा

हाकम सिंह इस पूरे पेपर लीक का मास्टर माइंड बताया जा रहा है। हाकम सिंह को लेकर शुरुआत से ही चर्चा हो रही थी। आरोप है कि हाकम ने ही आयोग के साथ मिलीभगत कर पेपर लीक कराया।

खबरें हैं कि उत्तरकाशी के नैटवाड़ के राजकीय इंटर कॉलेज में टीचर तनुज शर्मा की गिरफ्तारी ने हाकम सिंह की गिरफ्तारी के लिए बड़ा रास्ता खोला है। वहीं खबरें ये भी हैं कि अब उत्तरकाशी की एक और महिला जनप्रतिनिधि पर जल्द ही एसटीएफ के शिकंजे में फंस सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here