घनसाली : गदेरा और बालगंगा नदी उफान पर, काश्तकारों को भारी नुकसान, लगाया गंभीर आरोप

टिहरी के घनसाली-चमियाला में रातभर हुई भारी बारिश के चलते कई गदेरे और बालगंगा नदी उफान पर है। सुबह 2-3 बजे के आसपास चमियाला नगर पंचायत के अंतर्गत श्रीकोट गदेरे में भारी पानी आने से चमोल गांव के लोगों की खेती को भारी नुकसान पहुंचा है। लेकिन अब तक कोई सुध लेने वाला नहीं पहुंचा। हमारे संवाददाता ने ग्राउंड जीरो पर जाकर मौके का मुआयना किया और वहाँ पर मौजूद लोगों से बात की। स्थनीय युवा और कुछ महिलाएं वहां पर डटी हुईं थी। महिलाओं द्वारा लगातार पानी के बहाव की दिशा बदलने की कोशिश की जा रही थी ताकि और बड़े नुकसान को रोक जा सके।

वहीं इस दौरान महिलाओ ने स्थानीय प्रशासन और जनप्रतिनिधियों को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कोई भी उनकी सुध लेने नहीं आया। नेताओं को लेकर ग्रामीणों का कहना है कि वोट मांगने के वक़्त नेता लोग उनके पैरों पर पड़ जाते हैं लेकिन वोट मिलने और जीत के बाद कोई  उनकी सुनवाई ने लिए नहीं आ रहा है। स्थानीय युवा लगातार मौके पर डटे हुए हैं और पानी के रुख को बदलने में लगे हैं ताकि खेती को नुकसान ना पहुंचे।

आपको बता दें कि 7-8 घण्टे बीतने के बाद भी स्थानीय प्रशासन का कोई भी अधिकारी कर्मचारी मौके पर नहीं पहुंचे।
ग्राम प्रधान संगठन के अध्यक्ष दिनेश भजनियाल आपदास्थल का जायजा लिया और प्रभावितों से बात की। उन्होंने भी स्थानीय प्रशासन के आपदस्थल पर ना पहुंचने को लेकर दुख जताया। स्थानीय युवा अपनी जान जोखिम में डाल कर सुबह से लगातार पानी के बहाव को बदलने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन कोई सुध लेने वाला नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here