घर लौटने लगे दिहाड़ी मजदूर, सताने लगा लॉकडाउन लगने का डर

देश में कोरोना महामारी का प्रसार खतरनाक तरीके से बढ़ता जा रहा है। ऐसे में केंद्र सरकार से लेकर राज्य सरकारें मौजूदा स्थिति को देखते हुए नए दिशानिर्देश जारी कर रहे हैं। शादी से लेकर अंतिम संस्कार तक में लोगों की संख्या सीमित की जा रही हैं। इस बीच संसद से जुड़ी जानकारी सामने आई है, कि यहां के 400 कर्मचारी कोरोना संक्रमण के शिकार हो गए हैं जिसके चलते बजट सत्र के संचालन को लेकर मुश्किलें बढ़ गई हैं।

वहीं, नई दिल्ली में 24 घंटे के भीतर कोरोना वायरस के 19166 नए मामले सामने आए हैं। प्रदेश में अब संक्रमण दर 25 फीसदी पर पहुंच गई है। रिपोर्ट के मुताबिक टेस्ट कराने वाला हर चौथा व्यक्ति संक्रमित पाया जा रहा है। मुंबई की बात करें तो यहां पिछले 24 घंटे के भीतर 13648 कोविड केस सामने आए हैं और 5 मौतें हुई हैं।

हरियाणा में कोरोना के मामलों में तेजी से वृद्धि आ रही है। गुरुग्राम के मजदूरों को लॉकडाउन लगने का डर सताने लगा है। समाचार एजेंसी एएनआई ने ड्राइवर अमरिंदर कुमार यादव से बात की तो उन्होंने कहा कि शहर में कभी भी लॉकडाउन लग सकता है इसलिए मैंने अपने मूल राज्य वापस जाने का फैसला किया है। कोविड पाबंदियों के कारण मुझे कोई काम नहीं मिल रहा है, बिना आमदनी के गुजारा करना मुश्किल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here