CM तीरथ रावत ने फटी जींस वाले बयान पर मांगी माफी, बोले-मैं एक सामान्य ग्रामीण परिवार से राजनीति में आया हूं

 देहरादून। फटी जींस वाले बयान पर उत्तराखंड के सीएम तीरथ सिंह रावत ने माफी मांगी है। सीएम तीरथ सिंह रावत का कहना कि उनका ये बयान संस्कारों के परिपेक्ष्य में था, उनका उद्देश्य किसी का दिल दुखाना या भावनाओं को ठेस पहुंचाना नहीं था। सीएम ने कहा है कि अगर किसी को फटी जींस पहननी ही है तो वह पहनें। सीएम ने अपने बयान के लिए माफी मांगी है। सीएम ने कहा कि अगर उनके बयान से किसी को दिल हुखा है तो वह उसके लिए माफी मांगते हैं। उन्होंने मीडिया से अनौपचारिक बातचीत में ये बात कही।

सीएम ने कहा कि मैं एक सामान्य ग्रामीण परिवार राजनीति में आया हूं। स्कूल के दिनों में जब हमारी पैंट फट जाया करती थी तो अनुशासन और गुरु जी के डर से हम उस पर टैग लगा दिया करते थे लेकिन मौजूदा वक्त में बच्चा बच्चा 4000 या 2000 की जींस लेता है, वो पहले देखता है कि जींस फटी है कि नहीं। अगर फटी नहीं है तो वह घर जाकर उस पर कैंची चला देता है और बयान भी इसी के संदर्भ में था। उन्होंने कहा कि मेरी भी बेटी है और ये बात उसपर भी लागू होती है। वहीं उनकी पत्नी ने भी बयान जारी करते हुए कहा कि ये सीएम तीरथ सिंह रावत के लिए षडयंत्र है।उनका कहना है कि उनके बयान तो तोड़ मरोड़कर दिखाया जा रहा है। उनके कहने का मतलब था कि महिलाओं की भागीदारी समाज और देश के निर्माण में अभूतपूर्व है। हमारे देश की महिलाओं के कंधों पर ही यह जिम्मेदारी है कि वह हमारी सांस्कृतिक धरोहर को बचाएं, हमारी पहचान को बचाएं, हमारी वेशभूषा को बचाएं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here