बड़ी खबर: कंगना के बाद इस नेता के बिगड़े बोल, कहा-देश अमेरिका का गुलाम

नई दिल्ली: पिछले दिनों फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत के कारण विवाद खड़ा हुआ था। कंगना ने कहा था कि 1947 में आजादी भीख में मिली थी। असली आजादी तो 2014 में मिली है। अब कांग्रेस नेता के बयान से सियासत गरमा गई है। अपने विवादित बयानों को लेकर हमेशा सुर्खियों में रहने वाले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर ने एक बार फिर बयान देकर सियासत गरमा दी है। मणिशंकर अय्यर का ताजा बयान देश की आजादी को लेकर है।

अय्यर ने कहा कि पिछले सात सालों से हम अमेरिकियों के गुलाम बनकर रह गए हैं। एक सेमिनार में अय्यर ने कहा कि साल 2014 के बाद से हम अमेरिका के गुलाम हैं। इससे पहले बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने आजादी को लेकर विवादित बयान दिया था। एक टीवी चौनल शो के दौरान कंगना ने कहा कि हमें जो आजादी 1947 में मिली वो भीख में मिली थी। भारत को असली आजादी साल 2014 में मिली है।

दिल्ली में भारत-रूस के रिश्तों को लेकर आयोजित सेमिनार में कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने कहा कि पिछले सात साल से हम देख रहे हैं कि गुटनिरपेक्षता की तो बात ही नहीं होती, शांति को लेकर कोई चर्चा नहीं होती है। अमेरिकियों के गुलाम बनकर बैठे हैं और उनके कहने पर हम चीन से बच रहे हैं। हम कहें कि चीन के सबसे करीब दोस्त तो आप ही हो। दरअसल, मणिशंकर अय्यर भारत-अमेरिका के बीच मजबूत हो रहे संबंधों को लेकर सवाल खड़े किए।

अय्यर का कहना था कि भारत और रूस के रिश्ते बरसों पुराने हैं। रूस ने भारत को हमेशा सहयोग किया है, लेकिन जब से मोदी सत्ता में आए हैं, ये रिश्ता कमजोर हुआ है। मणिशंकर अय्यर ने कहा कि 2014 तक रूस के साथ हमारे संबंध और व्यापार अच्छे थे, लेकिन पिछले सात सालों में काफी कम हो चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here