जागा प्रशासन : कैंपटी फॉल आने वाले पर्यटकों के लिए बहुत जरुरी खबर, डीएम ने किया आदेश जारी

टिहरी : उत्तराखंड में कोरोना का कहर कम होते ही सरकार ने बाहरी लोगों के लिए उत्तराखंड के द्वारा खोले तो वहीं इसके बाद लोगों की भारी भीड़ देखी जा रही है जिससे एक बार फिर कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ गया है। बात करें कैंपटी फॉल की तो वहां बीते दिन सैंकड़ों लोगों की भीड़ देखने को मिली। जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ। वहीं अब मीडिया द्वारा खबर दिखाने के बाद प्रशासन जागा और बड़ा फैसला लिया है। जी हां बता दें कि अब एक बार में अधिकतम 50 पर्यटक ही नहाने एवं जलक्रीड़ा का लुफ्त ले पाएंगे और इसके लिए भी उन्हें केवल आधे घंटे का ही समय मिलेगा.कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए टिहरी जिला प्रशासन ने गुरुवार को यह निर्णय लिया है, जिसमें आधा घंटे की अवधि पूरी होते ही वहां लगे हूटर बजने लगेंगे और पर्यटकों को तत्काल उसमें से बाहर निकलकर वापस लौटना होगा.

सोशल मीडिया पर कैंपटी की वीडियो वायरल होने के बाद प्रशासन जागा और टिहरी की जिलाधिकारी इवा आशीष श्रीवास्तव ने यह आदेश जारी किया. उन्होंने टिहरी के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक और धनौल्टी के उपजिलाधिकारी को कैंपटी फॉल आने वाले पर्यटकों की निगरानी करने के लिए जांच चौकी स्थापित करने को भी कहा है. आदेश में कहा गया है कि इन चौकियों पर कोविड-19 नियमों के तहत पर्यटकों की जांच की जाए तथा कैंपटी फॉल झरने में एक बार में 50 से अधिक पर्यटकों को जाने की अनुमति न दी जाए. आधे घंटे में पर्यटकों के झरने से वापस लौटने के बाद बारी-बारी से 50 पर्यटकों को प्रवेश करने की अनुमति दी जाए. 30 मिनट बाद वहां लगे हूटर बजने लगेंगे जिसके बाद लोगों को बाहर आना होगा और दूसरे  लोगों को नहाने जाने दिया जाएगा।डीएम ने वहां तैनात कर्मचारियों को नियम का पालन कराने की सख्त निर्देश दिए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here