उत्तराखंड : इस अस्पताल में हुई 924 कोरोना मरीजों की मौत, दूसरी लहर ने बरपाया कहर

हल्द्वानी :  राजकीय सुशीला तिवारी अस्पताल जहां कोरोना मरीजों के लिए जीवनदायिनी बन रहा है तो वही इलाज के दौरान काफी मरीजो की मौत भी हो रही है। वर्ष 2020 में आई कोरोना की पहली लहर के बाद दूसरी लहार में सबसे ज्यादा कोरोना मरीजों की मौत हुई है।

अस्पताल से मिले आंकड़ों के मुताबिक कोविड काल से अब तक अस्पताल में 924 मरीजों की मौत हुई है। जबकि 7973 भर्ती मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं, वहीं 2020 से अब तक 18867 संक्रमित मरीजों का राजकीय सुशीला तिवारी में चेकअप किया गया है। अस्पताल के एमएस डॉ अरुण जोशी ने बताया कि कुमाऊँ का एकमात्र कोविड सेंटर होने के चलते पूरे कुमाऊं मंडल से मरीज यहां आ रहे है।

जिन्हें उचित इलाज उपलब्ध कराया जा रहे हैं उन्होंने बताया कि मरने वाले अधिकतर संक्रमित मरीज अन्य बीमारियों से भी ग्रसित थे। वर्तमान समय में कोरोना के रिकवरी रेट में तेजी आई है। वहीं अस्पताल में अब मरीजों की संख्या में भी कमी हुई है ठीक होकर घर लौटने वालों की संख्या में भी इजाफा हो रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here