उत्तराखंड : कुलगाम में शहीद हुए दीपक नैनवाल की पत्नी बनेगी सेना में अफसर, ट्रेनिंग के लिए गई चेन्नई

देहरादून : नमन है उन वीरांगनाओं को जो पति के शहादतके बाद जिंदगीे से हार नहीं मानती बल्कि पति के ही नक्शे कदम पर चलकर वर्दी पहनती हैं और देश की रक्षा करने का प्रण लेती हैं. इनमेे से एक हैं शहीद दीपक नैनवाल की पत्नी ज्योति। जी हां बता दें कि दीपक नैनवाल की पत्नी ज्योति अब सेना की वर्दी पहनेंगी और देश की रक्षा करेंगे। बता दें कि हर्रावाला निवासी दीपक नैनवाल की पत्नी की चयन सेना में हो गया है। वो जल्द पति की तरह वर्दी पहनेंगी और देश की रक्षा करेंगी। पति के शहादत के बाद अब उनती वीरांगना देश की सेवा के लिए उनकी ही राह पर चल पड़ी हैं। बता दें कि शहीद की पत्नी सेना में अफसर बनने जा रही हैं।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि देहरादून जिले के हर्रावाला निवासी नायक दीपक नैनवाल 10 अप्रैल 2018 को जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में आतंकी मुठभेड़ में घायल हुए थे। दीपक को तीन गोलियां लगीं, लेकिन उन्होंने हिम्मत नहीं हारी। वो एक महीने तक जिंदगी और मौत से जंग लड़ते रहे। वो हमेशा परिवार वालों से यही कहते रहे कि चिंता मत करो, मामूली जख्म है, ठीक हो जाऊंगा लेकिन, 20 मई को वह जिंदगी की जंग हार गए। इससे परिवार समेत पूरे उत्तराखंड में शोक की लहर दौड़ गई। शहीद के घर में कोहराम मच गया। शहीद की पत्नी पति को खोने पर बेसुध हो गई लेकिन उसने हार नहीं मानी। शहीद की पत्नी को मालूम था कि इसके आगे भी जिंदगी है और उसको कइयों को देखना है और ख्याल रखना है। वहीं ज्योति ने पति की तरह सेना में जाने की ठानी और पति की तरह देश सेवा का संकल्प लिया। कड़ी मेहनत और लगन के बाद भारतीय सेना के लिए उनका चयन हो गया है। अब वह प्रशिक्षण के लिए चेन्नई  स्थित ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी जा रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here