मेरठ का दामाद बना उत्तराखंड का मुख्यमंत्री, ससुराल में सास बांट रही मिठाई

देहरादून : मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के सीएम बनने की खुश उत्तराखंड से लेकर मेरठ तक है. जी हां बता दें कि मेरठ का दामाद उत्तराखंड का सीएम बना है। आपको बता दें कि तीरथ सिंह रावत की पत्नी का नाम रश्मि त्यागी रावत है जिनका माया मेरठ के कैलाशपुरी में है। यानी की सीएम तीरथ सिंह रावत का ससुराल मेरठ में है। उत्तराखंड के नए सीएम तीरथ सिंह रावत के ससुराल में जश्न का माहौल है। उनकी सास वहां लोगों को मिठाइयां बांट रही है।

तीरथ सिंह रावत की पत्नी रह चुकी हैं मिस मेरठ और मिस आरजी

मिली जानकारी के अनुसारी सीएम त्रिवेंद्र रावत की शादी 9 दिसम्बर 1998 में मेरठ की रश्मि त्यागी से हुई थी। इनकी एक बेटी है जो की सेंट जॉसफ एकेडमी में 10वीं की छात्रा है। बता दें कि तीरथ सिंह रावत की रश्मि त्यागी रावत डीएवी कॉलेज में मनोविज्ञान की प्रोफेसर हैं और साथ ही विधार्थी परिषद से जुड़ी रही हैं। तीरथ सिंह रावत की पत्नी मिस मेरठ और मिस आरजी भी रह चुकी हैं। तीरथ सिंह रावत के उत्तराखंड के सीएम बनने पर मेरठ में ख़ुशी की लहर है। तीरथ सिंह की सासु मां की ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा। उन्होंने संस्कृत में मंत्रोच्चारण कर अपने दामाद को शुभकामनाएं दी। वहीं साथ ही ससुराल में मिठाई बांटी जा रही है।

देहरादून के डीएवी पीजी कॉलेज में मनोविज्ञान की प्रोफेसर

आपको बता दें कि सांसद तीरथ सिंह रावत की पत्नी का नाम डॉ रश्मि त्यागी हैं। जो कि देहरादून के डीएवी पीजी कॉलेज में मनोविज्ञान की प्रोफेसर हैं। पत्नी और बेटी लोकांक्षा ने एक दूसरे को मिठाई खिलाकर खुशी जाहिर की। उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि मुझे मुझे पहले से ही अंदाजा था कि उनकी क्षमताओं और योग्यता को देखते हुए उन्हें कोई बड़ी जिम्मेदारी दी जा सकती है।

सीएम की बेटी बोलीं-अगर मुझे पापा को कोई काम बताना होगा तो वह.. 

वहीं पिता के सीएम बनने पर बेटी लोकांक्षा रावत ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि अगर मुझे पापा को कोई काम बताना होगा तो वह सबसे पहले पापा से कहेंगी कि प्रदेश में  बेरोजगारी को खत्म करने और रोजगार बढ़ाने के लिए काम करें। ताकि युवाओं को नौकरी के नए अवसर मिल सकें।

तीरथ सिंह रावत की बेटी 10वीं की छात्रा

आपको बता दें कि तीरथ सिंह रावत की एक ही बेटी है जो कि लोकांक्षा सेंट जोजेफ्स एकेडमी में 10वीं की छात्रा हैं।वो सुबह ही मां के साथ परीक्षा देकर लौटी हैं। वहीं तीरथ सिंह रावत तीन भाई हैं। सबसे बड़े भाई जसवंत सिंह रावत पूर्व सैनिक हैं। वो सीरों गांव में ही रहते हैं। दूसरे भाई कुलदीप सिंह रावत प्राइवेट सेक्टर में नौकरी करते हैं जो की देहरादून के क्लेमेंटटाउन में रहते हैं। तीरथ सिंह रावत तीनों भाइयों में सबसे छोटे भाई हैं।

तीन भाइयों में सबसे छोटे हैं सीएम तीरथ सिंह रावत

तीरथ सिंह रावत का जन्म 9 अप्रैल 1964 पौड़ी गढ़वाल में हुआ था, रावत तीन भाई हैं, सबसे बड़े भाई जसवंत सिंह रावत पूर्व सैनिक हैं। वह पौड़ी के सीरों गांव में ही रहते हैं। दूसरे भाई कुलदीप सिंह रावत प्राइवेट सेक्टर में जॉब करते हैं। वह देहरादून के क्लेमेंटटाउन क्षेत्र में निवास करते हैं। तीनों के पिता का नाम कलाम सिंह रावत है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here