सृष्टि गोस्वामी ने संभाली उत्तराखंड के सीएम की कुर्सी, अधिकारियों के साथ बैठक शुरु, जानिए कौन हैं सृष्टि?

देहरादून : राष्ट्रीय बालिका दिवस के मौके पर हरिद्वार की सृष्टि गोस्वामी उत्तराखंड के सीएम की कुर्सी एक दिन के लिए संभाल रही है। ये बालिका दिवस सृष्टि के लिए खास बन गया है। इसी के तहत सृष्टि बाल विधानसभा की मुख्यमंत्री का दायित्व संभाल रही हैं। विधानसभा भवन पहुंची एक दिन की सीएम सृष्टि गोस्वामी करीबन 12 विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। इसी के साथ कई और कार्यक्रम भी बाल सीएम के तय किए घए हैं। सृष्टि दोपहर 12 बजे से शाम साढ़े चार बजे तक मुख्यमंत्री का दायित्व निभाएंगी। आपको बता दें कि बैठक के बाद तीन बजे सृष्टि बालिका निकेतन का निरीक्षण करेंगी। यहीं बालिकाओं के साथ दोपहर का भोजन होगा। शाम साढ़े चार बजे हरिद्वार के लिए प्रस्थान करेंगी। सृष्टि गोस्वामी 19 साल की हैं और वह हरिद्वार के दौलतपुर गांव में रहती हैं। वह रुड़की के बीएसएम पीजी कॉलेज से ‌बीएससी एग्रिकल्चर की स्टूडेंट हैं। पिता प्रवीण पुरी गांव में ही छोटी सी दुकान चलाते हैं और मां सुधा आंगनबाड़ी की कार्यकर्ता हैं।

बैठक में विभिन्न बिभागों के अधिकारी अपने अपने विभागों की उपलब्धियों को एक दिन की सीएम सृष्टि के समक्ष रखेंगे। इन विभगों में प्रमुख अभियंता-लोक निर्माण विभाग, मुख्य कार्यकारी अधिकारी-पर्यटन विकास परिषद, निदेशक उरेड़ा ऊर्जा पार्क, प्रमुख अभियंता सिंचाई विभाग, निदेशक महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग, महानिदेशक चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, निदेशक माध्यमिक शिक्षा, सचिव राजधानी सामान्य प्रशासन, निदेशक ग्राम्य विकास विभाग, जिलाधिकारी देहरादून, महानिदेशक उद्योग निदेशालय, पुलिस महानिदेशक हैं।

आपको बता दें कि अब तक चार बार विधानसभा गठित हो चुकी है। चार मुख्यमंत्री बने, तीन बार लड़कियां मुख्यमंत्री बनीं है और एक बार लड़का। ये पद चुनाव से आया है।

जानिए कौन है सृष्टि

आपको बता दें कि सृष्टि बीएसएम पीजी कॉलेज रुड़की में बीएससी एग्रीकल्चर सातवें सेमेस्टर की छात्रा हैं और अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस पर कई कार्यक्रमों में भाग ले चुकी हैं। सृष्टि के पिता प्रवीण पुरी दौलतपुर में ही एक किराने की दुकान चलाते हैं। सृष्टि की मां सुधा गोस्वामी एक ग्रहणी हैं।

2018 में बाल विधानसभा संगठन में बाल विधायक भी चुनी गई थीं सृष्टि

आपको बता दें कि एक दिन के लिए मुख्यमंत्री बनने का अवसर पाने वाली सृष्टि गोस्वामी 2018 में बाल विधानसभा संगठन में बाल विधायक भी चुनी गई थीं। सृष्टि के पिता प्रवीण पुरी ने इस उपलब्धि पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि आज उनका सिर फक्र से ऊंचा हो गया है कि उनकी बेटी को आज एक ऐसा मुकाम हासिल हुआ है जो कि पूरे हिन्दुस्तान में पहली बार होने जा रहा है। एक दिन का मुख्यमंत्री बनने का जो अवसर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दिया है, इसके लिए हम उनका आभार व्यक्त करते हैं। वहीं सृष्टि की मां सुधा गोस्वामी का कहना है कि सृष्टि की उपलब्धि पर देश के हर माता-पिता को एक संदेश मिलेगा कि बेटियों को कभी आगे बढ़ने से रोकना नहीं चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here