उत्तराखंड में बारिश-बर्फबारी से बढ़ा ठंड का सितम, गंगोत्री-यमुनोत्री हाईवे समेत कई सड़कें बंद, फंसे यात्री

उत्तराखंड में बारिश और बर्फबारी से ठंड का सितम जारी है। पहाड़ी इलाकों में बसे लोगों की मुश्किलें बढ़ गई है।साथ ही यात्रियों को भी परेशानी हो रही है। बता दें कि कई जगह बर्फबारी के कारण सड़कें बंद हो गई। बात करें उत्तरकाशी की तो गंगोत्री-यमुनोत्री नेशनल हाईवे समेत कई सड़कें बंद हो गई है जिससे यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बंद मार्गों को खोलने का काम जारी है लेकिन लगातार हो रही बारिश के कारण कार्य में बाधा उत्पन्न हो रही है।

आपको बता दें कि उत्तरकाशी के ऊंचाई वाले इलाकों में 3 दिन से बारिश और बर्फबारी का सिलसिला जारी है। बर्फबारी के चलते जिले के 60 से अधिक गांवों का जिला और तहसील मुख्यालय से संपर्क कट चुका है। लोग घरों में कैद हैं। गंगोत्री व यमुनोत्री हाईवे पर 25 किमी से ज्यादा हिस्से पर बर्फबारी के कारण यातायात ठप पड़ा हुआ है। इसके साथ ही दर्जनभर से अधिक लिंक मार्ग अवरुद्ध होने से ग्रामीण क्षेत्रों में मुश्किलें बढ़ गई हैं। सीमातं जनपद उत्तरकाशी में लगातार बारिश और बर्फबारी से जन-जीवन खासा प्रभावित हो चला है।

गंगोत्री यमुनोत्री के अलावा हर्षिल, जानकी चट्टी, रैथल, बार्सू, गंगनानी, जखोली, सांकरी आदि जगह बर्फबारी से ढक गए हैं। गंगोत्री हाईवे सुक्खी टॉप से आगे गंगोत्री तक बर्फबारी के कारण यातायात के लिए पूरी तरह बाधित है। वहीं यमुनोत्री हाईवे राडी टॉप पर बस फंसने के कारण आवाजाही के लिए बाधित हो गया। हनुमानचट्टी से स्यानाचट्टी तक बर्फबारी के कारण हाईवे ठप है। उत्तरकाशी से लंबगांव श्रीनगर मार्ग चौरंगी के आसपास बंद है। बर्फबारी के कारण पेयजल व्यवस्था ठप पड़ गई है लोगों के सामने जल का संकट खड़ा हो गया है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here