यहां हुआ सबसे कम उम्र की बच्ची पर वैक्सीन का ट्रायल, 28 दिन बाद लगेगी दूसरी डोज

कोरोना वायरस की तीसरी लहर में डॉक्टरों और विशेषज्ञों ने चेतावनी जारी की है कि इस लहर में छोटे बच्चे प्रभावित होंगे। जिसके बाद सभी प्रदेश सरकारें व्यवस्थाएं जुटाने में लगी हैं। वहीं इस बीच यूपी के कानपुर समेत देश के 6 स्थानों पर 02-06 वर्ष की उम्र के बच्चों पर वैक्सीन का ट्रायल पूरा हो गया। शहर के आर्य नगर स्थित प्रखर हास्पिटल में सूबे की सबसे छोटी बच्ची 2 वर्ष 6 माह की वालंटियर को वैक्सीन लगाई गई। बुधवार को बच्ची समेत 10 वालंटियर्स पर वैक्सीन का ट्रायल हुआ। अब तक कुल 16 बच्चों पर ट्रायल किया गया है।

बता दें कि कानपुर के प्रखर हास्पिटल में छोटे बच्चों के कोवैक्सीन के फेज-टू के क्लीनिकल ट्रायल के गाइड प्रो. वीएन त्रिपाठी एवं डा. अमित चावला ने 10 वालंटियर्स को वैक्सीन लगाई। उसमें सबसे कम उम्र की बच्ची 2 वर्ष 6 माह की है, इससे पहले हुए ट्रायल में 2 वर्ष 8 माह की बच्ची को वैक्सीन लगाई गई थी। उसमें से चार बच्चे लखनऊ से आए, जबकि एक बच्चा कानपुर देहात के रसूलाबाद से आया। पांच बच्चे कानपुर नगर के हैं। इनको वैक्सीन की .5-.5 एमएल की डोज कंधे और बांह के बीच त्वचा के नीचे लगाई गई। सभी को एक घंटे निगरानी में रखा गया। कोई दिक्कत नहीं होने पर घर भेज दिया गया।
28 दिन बाद लगेगी दूसरी डोज
शहर के सेंटर पर 10 छोटे बच्चों पर ही वैक्सीन का ट्रायल होना था। अधिक बच्चे स्क्रीनिंग में उपयुक्त पाए गए, जो आज सेंटर पर पहुंचे। ऐसे में छह वालंटियर्स को ट्रायल में शामिल करने के लिए आइसीएमआर से स्पेशल अनुमति मांगी गई। अनुमति के बाद उन्हें वैक्सीन लगाई गई। वहीं बच्ची को दूसरी डोज अब 28 दिन बाद लगेगी .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here