आसमान से दुश्मनों के छक्के छुड़ाएगी उत्तराखंड की बेटी, उड़ाएगी सेना का लडाकू विमान

लोहाघाट : दिल में अगर जज्बा और जुनून हो तो मंजिल को पाना मुमकिन है। इसे सच साबित कर दिखाया है उत्तराखंड की बेटी मनीषा नेगी ने। जी हां बता दें कि नेपाल सीमा से लगे मडलक क्षेत्र के चामा गुरेली ग्राम पंचायत की होनहार मनीषा अधिकारी सेना में कमीशन प्राप्त कर एयर फोर्स में फ्लाइंग आफिसर बन गई है। मनीषा के फ्लाइंग आफिसर बनने से गांव में जश्‍न का माहौल है। ट्रेनिंग के बाद अब मनीषा भारतीय सेना के लड़ाकू विमान भी उड़ा सकेंगी।

जानकारी मिली है कि मनीषा की प्राथमिक शिक्षा सरस्वती शिशु मंदिर लोहाघाट, माध्यमिक शिक्षा विद्या मंदिर लोहाघाट से पूरी करने के बाद देहरादून डीबीआइटी से बीटेक की डिग्री हासिल की। मनीषा का बचपन से ही इंडियन आर्मी में रह कर देश सेवा करने का सपना था। उन्होंने बताया कि पापा को सीआरपीएफ की वर्दी वाली फोटो मुझे हमेशा अपने लक्ष्य को पाने के लिए प्रोत्साहित करती थी

मनीषा के मां बसंती अधिकारी गृहि‍णी है और पिताजी गोविंद सिंह अधिकारी सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स में इंस्पेक्टर पद से सेवानिवृत्त हो चुके हैं। मनीषा चार बहनों में सबसे छोटी हैं। मनीषा ने बताया की मेरी जैसी ग्रामीण क्षेत्रों से आने वाली बहनों के लिए इंडियन आर्मी में सेवा के बहुत अवसर हैं। जिसके लिए हमें प्रयासरत रहना चाहिए। उनकी इस सफलता पर क्षेत्र के विभिन्न सामाजिक व राजनीतिक संगठनों के लोगों ने बधाई दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here