उत्तराखंड: यहां पकड़ा गया हथियारों का जखीरा, सप्लायर गिरफ्तार

 

रुद्रपुर: ऊधमसिंह नगर जिले में अवैध हथियारों की सप्लाई यूपी से होती है। इस तरह के कई मामले सामने भी हा चुके हैं। हथियार सप्लाई करने वाले सप्लायर कई बार पहले भी पुलिस के हत्थे चढ़ चुके हैं, लेकिन इस पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। हथियारों की बड़ी खेफ हाथ लगी है। पुलिस व एसओजी ने अवैध हथियारों की सप्लाई करने वाले अन्तर्राज्यीय गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया है।

पकड़े गए आरोपियों ने पूछताछ में शहर के कई बड़े अपराधियों से सम्बंध होने के साथ ही उन्हें हथियार सप्लाई की बात कबूल की है‌। एसएसपी ऊधमसिंह नगर मंजूनाथ टीसी ने पुलिस की इस सफलता पर पुलिस व एसओजी टीम को पांच हजार का ईनाम देने का ऐलान किया है। एसओजी को जानकारी मिली कि मुरादाबाद और बिलासपुर से यश ठाकुर व प्रदीप राजपूत नाम के युवक ट्रांजिट कैम्प क्षेत्र में कई दिनों अवैध हथियारों की सप्लाई कर रहे हैं।

सूचना पर कार्यवाही करते हुए एसओजी टीम द्वारा उक्त जानकारी को पुख्ता किया गया तो पता चला कि जानकारी सही है। इसके बाद कार्रवाई करते हुए एसओजी की टीम ने रविवार को चैकिंग के रामपुर बार्डर बराड़ कालोनी तिराहे पर बाइक पर सवार आरोपी 18 वर्षीय प्रदीप राजपूत पुत्र सुन्दर लाल उर्फ शिव शंकर निवासी सिंह कालोनी बिलासपुर जिला रामपुर हाल निवासी राजा कालोनी थाना ट्रांजिट कैम्प को पकड़ा।

उसके साथ ही 21 वर्षीय यश ठाकुर उर्फ जगुवार पुत्र सुनील सिंह निवासी ओ.वी.डी. स्कूल के पास पीतल नगरी थाना कटघर जिला मुरादाबाद को भी भी पकड़ा गया। उनके पास से 315 बोर के 5 तमंचे, 315 बोर के 10 कारतूस जिन्दा व 22 बोर रिवाल्वर के 67 जिंदा कारतूस, 22 बोर पिस्टल के 6 जिंदा कारतूस व 2 अदद मोबाइल फोन व 1 बाइक बरामद हुई। एसएसपी के अनुसार आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि यह अवैध हथियारों और कारतूस थाना ट्रांजिट कैम्प क्षेत्र के राजा कालोनी निवासी रोहित शर्मा को देने जा रहे थे।

रोहित शर्मा के घर दबिश दी तो वह अपने घर से फरार हो गया। पूछताछ में प्रदीप राजपूत ने बताया कि ट्रांजिट कैम्प में इसी वर्ष अमित की हत्या में जेल गये मुख्य आरोपी रोहित सरकार से उसके नजदीकी संबंध हैं और रोहित ही उसे अपराध की दुनिया में लेकर आया। रोहित सरकार पर थाना ट्रांजिट कैम्प में पहले से ही आबकारी अधिनियम, आर्म्स एक्ट, व मारपीट के अभियोग दर्ज हैं।

प्रदीप राजपूत ने ट्रांजिट कैम्प क्षेत्र के ही अपराधी प्रमोद राठौर व नन्द पुत्र सालीराम, सत्ता कोली निवासी रम्पुरा रुद्रपुर, रमजानी निवासी पहाड़गंज थाना रुद्रपुर जनपद उधमसिंह नगर से रोहित सरकार के माध्यम से मित्रता होने व रुद्रपुर ट्रांजिट कैम्प क्षेत्र में कई लोगों को अवैध अस्लाह एवं कारतूस मुहैया कराने की बात कबूली तथा प्रदीप राजपूत व यश ने यह भी बताया कि उसने पूर्व में हत्या के मुकदमे में जेल गये रोहित सरकार को भी उसने ही ​हथियार उपलब्ध कराये थे।

अस्लाह की मांग के अनुसार प्रदीप राजपूत व यश ठाकुर से 110 रुपये के हिसाब से कारतूस व 25000 रुपये के हिसाब से माऊजर व 2500रुपये के हिसाब से तमंचा मंगाता है और पैसों का लेनदेन गूगल के माध्यम से करते हैं। यश ठाकुर मुरादाबाद के अलग अलग स्थानों से उक्त हथियार मांग के अनुसार प्रदीप राजपूत को उपलब्ध करता है। स्थानीय स्तर पर प्रदीप राजपूत व यश रमजानी निवासी ट्रांजिट कैम्प से भी हथियार लेता है।

चेकिंग के दौरान ही एसओजी की उक्त टीम द्वारा रवि राय पुत्र रामा राय निवासी शारदा कालोनी थाना बिलासपुर जनपद रामपुर से एक अवैध पिस्टल व 32 बोर का एक जिन्दा कारतूस भी बरामद किया। रवि राय ने यह पिस्टल अपने मूल निवास लधौरा मुजफ्फरपुर बिहार से लाने की बात बतायी। पुलिस ने तीनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके उनके साथियों को दबोचने के लिए जाल बिछाना शुरू कर दिया है। एसएसपी ने एसओजी व पुलिस की टीम को पांच हजार रूपये का ईनाम देने का ऐलान किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here