उत्तराखंड: अपने धाम में विराजे बाबा केदार, विधि-विधान के साथ खुले कपाट

रुद्रप्रयाग : द्वादश ज्योतिर्लिंगों में से एक भगवान केदारनाथ के धाम के कपाट विधि-विधान के साथ खोल दिए गए। अगले 6 माह बाबा केदार की पूजा-अर्चना धाम में ही होगी। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जारी दिशा-निर्देशों के तहत कपाटोद्घाटन परंपराओं के साथ हुआ। इस वर्ष भी श्रद्धालु इस पावन क्षण के साक्षी नहीं बन पाए। सोमवार सुबह 5 बजे मेष लग्न में धाम के कपाट खोल दिए गए। मंदिर को 11 कुंतल फूलों से सजाया गया।

सोमवार को तड़के तीन बजे से केदारनाथ मंदिर में विशेष पूजा-अर्चना शुरू हूई। मुख्य पुजारी बागेश लिंग द्वारा केदारनाथ बाबा की समाधि पूजा के साथ अन्य धार्मिक कार्य पूरे किए गए। इसके बाद निर्धारित समय पर सुबह 5 बजे रावल भीमाशंकर लिंग, जिलाधिकारी मनुज गोयल और देवस्थानम बोर्ड के अपर मुख्य अधिकारी बीडी सिंह समेत अन्य आला अधिकारियों की मौजूदगी में केदारनाथ धाम के कपाट विधि-विधान के साथ खोल दिए गए। केदारनाथ मंदाकिनी व सरस्वती नदी के संगम पर स्थित है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here