उत्तराखंड : त्रिवेंद्र सरकार ने पूरी की तैयारी, दिव्य, भव्य और सुरक्षित होगा कुंभ

देहरादून: विश्व के सबसे बड़े धार्मिक आयोजन हरिद्वार महाकुंभ के लिए लगभग सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। आस्था और संस्कृति के अस महापर्व के लिए हरकी पैड़ी से लेकर पूरी धर्मनगरी एक नए रंग रूप में नजर आ रही है। महाकुंभ का आयोजन इस बार ग्रीन और क्लीन कुंभ की थीम पर आयोजित किया जा रहा है। कुंभ की दिव्यता और भव्यता के साथ ही गंगा की शुद्दता व पर्यावरण पर खास फोकस किया गया है।

हरिद्वार महाकुंभ के सफल आयोजन के लिए सरकार द्वारा दिनरात प्रयास किया जा रहा है। ताकि कुंभ मेले में आने वाले श्रद्धालुओं को किसी भी तरह की कोई परेशानी ना हो। सरकार के इन्ही प्रयासों से महाकुंभ के लिए धर्मनगरी पूरी तरह से तैयार है। दिव्यता और भव्यता से लेकर स्वच्छता और सुरक्षा के संकल्प के साथ सरकार पूरी तरह से तैयार नजर आ रही है।

यहां देखें VIDEO : https://www.facebook.com/khabaruttarakhandwebsite/videos/348423322916105

विश्व के सबसे बड़े धार्मिक आयोजन महाकुंभ के लिए धर्मनगरी हरिद्वार का कायाकल्प किया गया है। जहां पर कदम रखते ही श्रद्धालुओं को धर्म, संस्कृति और अध्यात्म का ऐहसास होगा। इसके लिए नेशनल हाईवे से लेकर कुंभ नगरी की लगभग सभी दिवारों पर रामायण, उत्तराखंड की लोक संस्कृति, और पौराणिक कथाओं से जुड़े म्यूरल बनाए गए है।

इसके साथ ही कोविड महामारी के दौर में श्रद्धालुओं की सुरक्षा को देखते हुए सरकार द्वारा स्वास्थ्य व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए है। कुंभ मेले में आने वाले श्रद्दालुओं के लिए 1 हजार बेड का कोविड अस्पताल भी बनाया जा रहा है। साथ ही मास्क और सैनिटाइजर के भी इंतजाम किए गए है। केंद्र सरकार द्वारा कुंभ के लिए जारी की गई गाइडलाइन के अनुसार श्रद्धालुओं को कोविड निगेटिव रिपोर्ट लानी होगी।

इतना ही नहीं इस बार कुंभ मेले में श्रद्धालुओं को स्नान घाट भी अपनी ओर आकर्षित करने वाले होंगे। त्रिवेंद्र सरकार द्वारा मेले के लिए 16 करोड़ 13 लाख की लागत से 8 स्नान घाटों का निर्माण कराया गया है। जहां पर श्रद्धालु सूर्यदर्शन और सूर्य नमस्कार, के साथ ही कई अन्य चीजों का आनंद ले सकेंगे। यातायात की परेशानी को दूर करने के लिए सरकार द्वारा करोड़ो की लागत से नेशनल हाइवे से लेकर कई फ्लाईओवर का निर्माण कराया गया है। जिससे कुंभ मेले में आने वाले श्रद्धालुओं को जाम से छुटकारा मिलेगा और सफर में सहूलियत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here