उत्तराखंड: संभलकर करें पहाड़ का सफर, ये सड़कें हैं बंद, यहां मंडरा रहा खतरा

चमोली: मानसून का असर अब नजर आ रहा है। पहाड़ से मैदान तक बारिश हो रही है। लगातार बारिश के कारण जनजीवन प्रभावित है। भारी बारिश के कारण कई जगहों पर एनएच और अन्य मार्ग बंद हो गए हं। सड़कों पर मलबा आने के बारण कुछ जगहों पर यातायात ठप्प पड़ा हुआ है। नदी-नले उफान पर आ गए हैं। मानसून के दिनों में अगर किसी जरूरी काम से पहाड़ जाना हो, तो संभलकर जाएं और जरूरी बातों का ध्यान भी रखें।

मलबा आने के बाद बदरीनाथ नेशनल हाईवे चमोली में गुलाबकोटी और कौडिया में बंद है। यहां दोनों ओर वाहनों की लगी लंबी कतारें लगी हैं। अलकनंदा, मंदाकिनी, और पिंडर नदी सहित छोटे-बड़े नदी-नालों का भी जलस्तर बढ़ा है। जिले के कई ग्रामीण मार्ग भी अवरुद्ध हैं, जिनको खोलने का प्रयास किया जा रहा है।

कर्णप्रयाग-गैरसैंण मोटर मार्ग भी सिरोली-भटोली के पास पड़ा है बंद।ग्रीष्मकालीन राजधानी भराडीसैंण का है यह मुख्य मोटर मार्ग। कर्णप्रयाग-ग्वालदम-बैजनाथ-अल्मोड़ा मोटर मार्ग भी नलगांव के पास बंद।बीआरओ के कनिष्ठ अभियंता ने बताया कि पहाडी से लगातार पत्थर गिरने के कारण बारिश थमने पर ही सड़क खोलना होगा संभव। कुछ इलाकों में खेतों में पानी भरने से खेती को भी नुकसान हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here