उत्तराखंड: मिट्टी के ढेर के नीचे दबे पति-पत्नी, दर्दनाक मौत

बागेश्वर: कपकोट थाना क्षेत्र में जगथाना गांव में मिट्टी की खुदाई कर रहे दम्पति की पहाड़ी खिसकने के कारण मलबे में दबकर दर्दनाक मौत हो गई। आधी रात को एसडीआरएफ और पुलिस के जवानों ने ग्रामीणों की मदद से दोनों शवों को मलबे से बाहर निकाला।

मिली जानकारी के अनुसार जगथाना निवासी 30 वर्षीय देवेन्द्र सिंह और उनकी पत्नी 25 वर्षीय गीता देवी कल शाम एक मिट्टी की ढांग से मिट्टी खोद रहे थे अचानक ढांग दरक गई और देवेन्द्र और गीता देवी टनों मलबे के नीचे दब गये। 12 जनवरी की रात को जथाना के पास 2 लोगों के मलवे में दबने की सूचना थाना कपकोट के माध्यम से SDRF को मिली थी।

सूचना मिलते ही SDRF की रेस्क्यू टीम तत्काल रेस्क्यू के लिए स्थानीय पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंची। मलबे से गीता देवी और उसके पति देवेंद्र सिंह के शवों को बाहर निकाला। ग्रामीणों ने पुलिस और एसडीआरएफ को सूचना देने के साथ ही मिट्टी को हटाना शुरू किया, लेकिन वे सफल नही हो सके। तब तक पुलिस और एसडीआरएफ की टीमें भी मौके पर पहुंच गई। आधी रात के वक्त दोनों शव मलबे से निकाले जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here