उत्तराखंड: शून्य सत्र में गेस्ट टीचरों के तबादले, अल्मोड़ा से सीधे देहरादून

देहरादून: कोरोना के चलते राज्य में स्थानांतरणों पर रोक लगा दी गई थी। पूरी सत्र को ही शून्य घोषित कर दिया गया था। लेकिन, शिक्षा विभागीय के अधिकारियों ने शून्य सत्र में भी तबाले कर दिए। इसको लेकर बाकायदा आदेश भी जारी किया था। विभागीय अधिकारियों ने अदला-बदली करते हुए अल्मोड़ा में कार्यरत शिक्षिका का देहरादून तबादला कर दिया। ऐसे ही अन्य मामले भी हैं।

सून्य सत्र में शिक्षक संगठन भी लगातार ट्रांसफर की मांग करते आ रहे हैं। उनका कहना है कि विभाग में कोविड की वजह से यदि अनिवार्य तबादले नहीं किए जा सकते तो धारा 27 के तहत गंभीर बीमार शिक्षकों के तबादले किए जाएं। इसके बावजूद नियमित शिक्षकों के तबादले नहीं हो पा रहे हैं।

जबकि विभाग नेे नियमों को ताक पर रखकर गेस्ट टीचरों के तबादले कर दिए गए हैं। विभागीय सूत्रों के मुताबिक गेस्ट टीचरों को व्यवस्था पर रखा गया है। इनके एक से दूसरे स्कूल में तबादले नहीं किए जा सकते। इसके बावजूद विभाग में नियमों की अनदेखी की जा रही है।

ऐसे हुआ तबादला
अपर निदेशक माध्यमिक शिक्षा एसपी खाली की ओर से जारी आदेश के मुताबिक राजकीय इंटरमीडिएट कॉलेज जमोली अल्मोड़ा की जीव विज्ञान की शिक्षिका अनुराधा का तबादला अल्मोड़ा से राजकीय इंटर कॉलेज केराड देहरादून किया गया है, जबकि राजकीय इंटर कॉलेज केराड देहरादून में कार्यरत शिक्षिका इंदु का तबादला राजकीय इंटर कॉलेज जमोली अल्मोड़ा किया गया है।

तबादला आदेश में कहा गया है कि अपर निदेशक माध्यमिक शिक्षा पौड़ी और अपर निदेशक माध्यमिक शिक्षा कुुमाऊं मंडल की सिफारिश पर दोनों शिक्षिकाओं के पारस्परिक तबादले किए गए हैं। इससे शिक्षक संगठनों में भारी आक्रोश है। शिक्षक नेताओं ने इसे पूरी तरह गलत बताया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here