उत्तराखंड : होली से पहले बुझ गया घर का चिराग, सांडों की लड़ाई में गई 9 साल के सामूम की जान

 

ऋषिकेश: शिवाजी नगर में दो सांडों की लड़ाई में एक घर का चिराग बुझ गया। होली से पहले घर में कोहराम मचा हुआ है। नगर निगम ऋषिकेश की लापरवाही के चलते शिवाजीनगर में आवारा पशुओं का जमावड़ा लगा रहता है, जिसके चलते लोगों अक्सर दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। मामला शनिवार शाम करीब साढे छह बजे का है।

शिवाजीनगर गली नंबर 34 के समीप दो सांड आपस में भिड़ गए। सांडों की लड़ाई से बचने के लिए पास में ही खेल रहा एक मासूम वहां से भाग ही रहा था कि उसके ऊपर अचानक ठेली गिर गई, और ठेली के ऊपर भीड़ रहे सांडों ने उसे कुचल दिया। इस घटना में मासूम बुरी तरह लुहूलुहान हो गया। आनन-फानन में परिजनों ने मासूम को एम्स में भर्ती किया जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। आईडीपीएल चैकी प्रभारी चिंतामणी मैठाणी ने मासूम की पहचान ऋषभ (9) पुत्र बृजेश, निवासी गलीनंबर 34 शिवाजीनगर ऋषिकेश के रूप में की है।

स्थानीय नागरिक रवि गुप्ता ने बताया कि मासूम अपने घर में दो भाई  बहिनों में बड़ा था। वह कक्षा तीन में बीस बीघा स्थित सुमन उपासना स्कूल में पड़ता था। छोटी बहिन पांच साल की है। होली पर्व पर घर का चिराग बुझ गया है। वहीं इस घटना से पड़ोसी भी सदमें में हैं। मासूम के मौत पर स्थानीय लोगों ने नगर निगम के खिलाफ आक्रोश जताया। स्थानीय लोगों ने आरोप लगाया कि शिवाजीनगर में निराश्रित जानवरों की सूचना कई बार निगम प्रशासन को दी जा चुकी है। लेकिन निगम प्रशासन कार्रवाई करने को तैयार नहीं है। जिसका खामियाजा स्थानीय लोगों को भुगतना पड़ता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here