उत्तराखंड : स्वर कोकिला लता मंगेशकर के निधन पर दो दिन का राजकीय शोक घोषित

देहरादून: उत्तराखंड सरकार ने स्वर कोकिला लता मंगेशकर के निधन पर उनके सम्मान में प्रदेश में दो दिन का राजकीय शोक घोषित किया है। इस संबंध में आदेश जारी कर दिए है। प्रदेश के सभी जनपदों के सरकारी कार्यालयों में राष्ट्रीय ध्वज आधे झुके रहेंगे। और सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित नहीं किए जाएंगे।

लता मंगेशकरका 92 साल की उम्र में निधन हो गया है। देश दुनिया से लोग उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे हैं। गायिका को 8 जनवरी को मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। बता दें कि लता मंगेश्कर 92 साल की थीं और उन्हें उम्र से संबंधी अन्य समस्याएं भी थीं। डॉक्टर्स ने उन्हें बचाने की पूरी कोशिश की लेकिन आज सुबह उनका स्वर्गवास हो गया।

लता मंगेशकर ने 36 भारतीय भाषाओं में गाने रिकॉर्ड कराए हैं। लता मंगेशकर ने केवल हिंदी भाषा में 1,000 से ज्यादा गीतों को अपनी आवाज दी है। उन्हें साल 1989 में दादासाहेब फाल्के पुरस्कार से भी सम्मानित किया जा चुका है। साल 2001 में लता मंगेशकर भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘भारत रत्न’ दिया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here