उत्तराखंड से दुखद खबर, नहीं रहे हरफ़नमौला लोक कलाकार रामरतन काला

पौड़ी – उत्तराखंड के हास्य कलाकार एवं लोक गायक रामरतन काला का आज देहांत हो गया। दशक में नजीबाद अकस्वानी नजीबाबाद से एक गीत बहुत धूम मचाता था। मीथे बियोला बने दयावा बीयोली खुजे दियावा कोटद्वार मानपुर के रहने वाले रामरत्न काला का यह गीत आज भी 1990 दशक के लोगों की जुबान पर रहता है।

रामरतन काला जी काफी समय से बीमार चल रहे थे। पूर्व मुख्य मंत्री बी सी खंडूरी ने उनकी थोड़ी बहुत आर्थिक सहायता की पर राम रत्न काला जी आज अपना सरीर त्याग कर सदैव के लिए उत्तराखंड की भूमि को विदा कह गए। पूरा उत्तराखंड उनका यह योग दान कभी नहीं भूलेगा। उन्होंने नरेंद्र सींह नेगी के रोक एन्ड रोल रोल बुवाड़ा तेरु मछवि गाड़ बेगिगे जैसे सुपर हिट गानो में अपना योगदान दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here