बड़ी खबर। उत्तराखंड रोडवेज ने कई कर्मचारियों को जबरन रिटायर किया

उत्तराखंड रोडवेज से बड़ी खबर है। रोडवेज ने अपने 12 कर्मचारियों को जबरन रिटायर कर घर भेज दिया है। इन सभी को रोडवेज ने पद के सापेक्ष काम करने लायक नहीं माना और नौकरी से हटा दिया है। जल्द ही 72 और लोगों को रिटायर करने की तैयारी है।

दरअसल रोडवेज प्रबंधन ने एक रिपोर्ट तैयार कराई थी। इस रिपोर्ट के आधार पर देखा गया कि कौन सा अधिकारी अपने पद के सापेक्ष काम करने में अक्षम है। रोडवेज को 84 ऐसे कर्मियों के बारे में पता चला तो काम करने में अक्षम माने गए।

रोडवेज ने इन कर्मियों को तीन महीने का नोटिस दिया और सेवानिवृत्ति लेने के लिए कहा। लेकिन इन कर्मियों ने सेवानिवृत्ति नहीं ली। जिन कर्मियों को रिटायर किया जा रहा है कि उनमें 69 ड्राइवर और 14 कंडक्टर शामिल हैं। इनमें से 12 कर्मियों को मिली नोटिस की मियाद पूरी हो गई थी। कुछ अन्य की 22 और 23 दिसंबर को पूरी हो रही है। नोटिस की मियाद पूरी होने के बाद बचे हुए कर्मियों को भी रिटायर कर दिया जाएगा।

जिन कर्मियों को नोटिस दिया गया है उनमें अलग अलग मंडलों के कर्मचारी शामिल हैं। देहरादून में ही 30 अक्षम कर्मचारियों की पहचान हुई है। इनमें से 9 को हटा भी दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here