उत्तराखंड : 10 लाख की स्मैक के साथ एक गिरफ्तार, पर्यटक स्थलों पर करता था सप्लाई


देहरादून: देहरादून पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। कोतवाली पटेलनगर पुलिस देहरादून के विभिन्न स्थानों और पर्यटक स्थलों में तस्करी कर बेचने के लिए लाई जा रही 116 ग्राम स्मैक के साथ एक तस्कर गिरफ्तार किया है। स्मैक कीमत 10 लाख रुपये बताई जा रही है। एसएपी डॉ.योगेन्द्र सिंह रावत के निर्देशन में लगातार मादक पदार्थों की तस्करी व बिक्री पर रोकथाम हेतु असामाजिक तत्वों के विरूद अभियान चलाकर कार्यवाही करने के आदेश/निर्देश जारी किये गये है।

जिसके अनुपालन में पुलिस अधीक्षक नगर सरिता डोबाल व अनुज कुमार क्षेत्राधिकारी सदर के मार्गदर्शन/पर्यवेक्षण में कोतवाली प्रभारी निरीक्षक पटेलनगर प्रदीप कुमार राणा द्वारा मादक पदार्थों की धरपकड एवं तस्करी/ बिक्री करने वाले असामाजिक तत्वों पर अंकुश लगाने हेतु अलग-अलग टीम गठित कर रवाना किया गया।

पुलिस टीम द्वारा दिनांक स्मैक तस्कर अनुज कुमार को गस्त के दौरान माता मंदिर तिराहा के निकट भण्डारीबाग से गिरफ्तार किया। जिसके कब्जे से 116 ग्राम स्मैक, कीमत 10 लाख, स्मैक बेचकर कमाये हुये 2200 रुपये व स्मैक का वजन करने हेतु एक इलेक्ट्रॉनिक तराजू बरामद हुआ। अभियुक्त के विरुद्ध थाना पटेलनगर में मुकदमा दर्ज किया गया है। अभियुक्त को आज समय से मा0 न्यायलय पेश किया जा रहा है।

अभियुक्त अनुज कुमार द्वारा पूछताछ में बताया कि वह अपने एक अन्य मित्र मोनू के साथ मिलकर लॉकडाउन से पहले हरियाणा व चंडीगढ़ से शराब की तस्करी का कार्य किया करता था, जिसे वह दोनो अलग-अलग स्थानों पर सप्लाई किया करते थे। लॉकडाउन के कारण बॉर्डर पर वाहनों की चेकिंग होने के कारण उसने व उसके मित्र ने काम छोड़ दिया था और ज्यादा लाभ होने के चलते अपने मित्र के साथ स्मैक की तस्करी का कारोबार शुरू कर दिया।

स्मैक को मोनू बरेली व अन्य स्थानों से लेकर आता है, जिसे वह देहरादून व अन्य पर्यटन स्थलों पर आवश्यकता अनुसार सप्लाई करता है। स्मैक बेचकर होने वाले लाभ मैं उसका व उसके मित्र मोनू का बराबर का हिस्सा होता है। आज भी वह देहरादून के स्थानो, पर्यटक स्थलों में स्मैक बेचने के लिए आया हुआ था । पकड़े गए व्यक्ति के आपराधिक इतिहास, अन्य स्रोतों व अन्य जानकारी प्राप्त की जा रही है। अभियान लगातार जारी है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here