उत्तराखंड: जानें हरीश रावत ने क्यों रखा मौन व्रत, CM आवास में उपवास की चेतावनी

देहरादून: पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत लगातार चर्चाओं में बने रहते हैं। उन्होंने आज नंदप्रयाग-घाट मोटर मार्ग के चैड़ीकरण के लिए आंदोलन कर रहे ग्रामीणों और प्रदेश में माल्टा उत्पादकों के समर्थन में एक घंटे का उपवास रखा। उनके साथ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सुरेन्द्र कुमार ने भी मौन उपवास में हिस्सा लिया। उपवास के बाद उन्होंने कहा कि नंदप्रयाग-घाट मोटर मार्ग के चैड़ीकरण को लेकर ग्रामीण लंबे समय से आंदोलन कर रहे हैं।

सरकार सड़क चौड़ीकरण से क्यों बचना चाह रही है, यह समझ से परे है। सरकार लोगों की मांग को लगातार अनसुना कर रही है। वहीं, औरिंग गांव के काश्तकार मालटों के पेड़ काटने के लिए शासन से अनुमति मांग रहे हैं। उन्होंने कहा कि एमएसपी इतनी कम है कि खरीद केंद्र तक ले जाने के लिए ढुलाई तक नहीं निकल पा रही। उन्होंने कहा कि अगर सरकार ने उनकी मांगे पूरी नहीं की तो वो फरवरी में सचिवालय या फिर सीएम आवास पर उपवास करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here